20 करोड़ की लागत से बदलेगी अजमेर बस स्टैंड की सूरत :वासुदेव देवनानी

अजमेर 9 मार्च। आजादी के 76 साल बाद आखिरकार अजमेर बस स्टैंड ( Ajmer Bus Stand ) की सूरत बदल जाएगी। राज्य सरकार के स्तर पर अजमेर बस स्टैंड के जीर्णोद्धार को लेकर करीब बीस करोड़ रुपए की योजना को सैद्धांतिक सहमति मिल गई है। इस राशि से बस स्टैंड का नवनिर्माण, वर्कशॉप को शिफ्ट जयपुर रोड पर करना और बस स्टैंड पर अत्याधुनिक सुविधाओं का विकास किया जाएगा। विधानसभा अध्यक्ष वासुदेव देवनानी ( Vasudev Devnani ) ने शनिवार को जिला कलेक्टर डॉ भारती दीक्षित और अन्य अधिकारियों के साथ बस स्टैंड का निरीक्षण किया और अधिकारियों को निर्देश दिए।

विधानसभा अध्यक्ष देवनानी ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा अजमेर बस स्टैण्ड का पुनरूद्वार प्रस्तावित है। इसके लिए वित्तीय स्वीकृति शीघ्र जारी होगी। कंसलटेंसी फर्म द्वारा प्रजेंटेशन दिया जा चुका है। अजमेर के केन्द्रीय बस स्टैण्ड को पूरी तरह नए रूप में विकसित किया जाएगा। यहां स्थित वर्कशॉप को जयपुर रोड़ पर शिफ्ट कर खाली हुए स्थान का उचित उपयोग प्रस्तावित है ताकि रोड़वेज को अतिरिक्त आमदनी हो सके।

क्या बदलेगा अजमेर बस स्टैंड पर
उन्होंने बताया कि वर्तमान भवन के स्थान पर नया बस टर्मिनल, स्टैण्ड, नया टैम्पो स्टैण्ड, पार्किंग, फूड कोर्ट, व्यावसायिक भवन, आने-जाने के अलग-अलग मार्ग सहित अन्य सुविधाएं भी नए बस स्टैण्ड पर प्रस्तावित है। इस बस स्टैण्ड में सुरक्षा के भी पर्याप्त बंदोबस्त किए जाएंगे। पैदल चलने वालों के लिए अलग से फुटपाथ होगा। यहां पेट्रोल पम्प, बैंक भवन, एटीएम, फूड कोर्ट सहित अन्य प्रावधान किया जा सकता है। देवनानी ने निर्देश दिए कि बस स्टैंड को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाने की विस्तृत योजना तैयार की जाए।

यहां दुकानों, पेट्रोल पम्प, बैंक भवन, एटीएम व अन्य व्यवसायिक गतिविधियों का प्रावधान किया जाए ताकि बस स्टैंड की देखरेख सम्बन्धी सभी जरूरते आसानी से पूरी हो सके। उन्होने यहां पार्किंग को लेकर भी चर्चा की। बस स्टैंड में बसों के अलावा, ऑटो रिक्शा, दो पहिया वाहनों की पार्किंग भी उचित प्रावधान किया जाएगा। बस स्टैंड के ग्राउंड फ्लोर पर बसों की ठहराव की व्यवस्था होगी। जिला स्तरीय, राज्य स्तरीय व राज्य से बाहर जाने वाली बसों के लिए अलग अलग प्लेटफार्म बनाए जाएंगे।

हर फ्लोर के कामों के हिसाब से तैयार होगा अजमेर बस स्टैंड
प्रथम तल पर रोडवेज प्रशासन का कार्यालय स्थापित किया जाएगा। यहां ड्राइवर व कंडक्टर सहित अन्य स्टाफ के लिए विश्राम, भोजन, ठहराव की व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी। बेसमेंट में पार्किंग होगी, जबकि छत पर सोलर पैनल लागए जाने का प्रावधान किया जाएगा। भवन को आगामी पचास साल की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए तैयार किया जाएगा। इसे चरणबद्ध तरीके से विकिसत किया जाना है। इसका डिजाइन इस तरह तैयार होगा कि भूतल के साथ चार मंजिला भवन भविष्य में बनाया जा सके।

Spread the love