RPSC: नए नियमों के साथ शुरू हुई असिस्टेंट प्रोफेसर लाइब्रेरियन और पीटीआई परीक्षा 2023

मनीषा शर्मा, अजमेर। राजस्थान लोक सेवा आयोग (RPSC) द्वारा असिस्टेंट प्रोफेसर, लाइब्रेरियन और पीटीआई परीक्षा-2023 गुरुवार राजस्थान लोक सेवा आयोग (RPSC) द्वारा असिस्टेंट प्रोफेसर, लाइब्रेरियन और पीटीआई परीक्षा-2023 आज से शुरू हो गई है। स्पष्ट पहचान के लिए कैंडिडेट्स की पासपोर्ट साइज से डेढ़ गुना बड़ी फोटो लगाई गई है। साथ ही, अटेंडेंस शीट पर हैंडराइटिंग का नमूना भी लिया गया है। नकल रोकने और फर्जी कैंडिडेट्स की धरपकड़ के लिए नए नियम बनाए गए हैं। से शुरू हो गई है। स्पष्ट पहचान के लिए कैंडिडेट्स की पासपोर्ट साइज से डेढ़ गुना बड़ी फोटो लगाई गई है। साथ ही, अटेंडेंस शीट पर हैंडराइटिंग का नमूना भी लिया गया है। नकल रोकने और फर्जी कैंडिडेट्स की धरपकड़ के लिए नए नियम बनाए गए हैं।

आयोग सचिव ने बताया कि 2 जून तक चलने वाले इन एग्जाम्स के लिए पहली बार ये नियम लागू किए गए हैं। डमी अभ्यर्थियों की संभावना को रोकने के लिए अभ्यर्थियों की हैंडराइटिंग का नमूना लिया गया है। वहीं अटेंडेंस शीट पर अभ्यर्थी की स्पष्ट और पासपोर्ट साइज से डेढ़ गुना बड़ी फोटो प्रिंट की गई है।

आयोग द्वारा जारी एडमिट कार्ड के साथ अटेंडेंस शीट भी संलग्न है। इस शीट को परीक्षा केंद्र पर वीक्षक अभ्यर्थी की पहचान कर स्वयं के, केंद्राधीक्षक एवं अभ्यर्थी के हस्ताक्षर करवाकर प्रवेश-पत्र से अलग कर केंद्र पर जमा किया गया है। परीक्षा संपन्न होने के उपरांत यह अटेंडेंस शीट परीक्षा सामग्री के साथ आयोग को भेजी जाएगी। परीक्षार्थी को अटेंडेंस शीट के निचले भाग में दिए गए स्थान पर इंविजिलेटर की उपस्थिति में एक वाक्य लिखना होगा। इसके बाद अभ्यर्थी अपने साइन कर स्वयं के द्वारा लिखे गए वाक्य की पुष्टि करेगा।

आयोग के मुख्य परीक्षा नियंत्रक आशुतोष गुप्ता ने बताया कि 27 विषयों के कुल 2033 पदों के लिए परीक्षाओं का आयोजन अजमेर एवं जयपुर जिला मुख्यालय पर आयोजित हो रही है। परीक्षा के लिए 1 लाख 82 हजार 257 अभ्यर्थी पंजीकृत किए गए हैं।

Spread the love