latest-newsजयपुरराजनीतिराजस्थान

राजस्थान का पहला पूर्ण बजट: दीया कुमारी ने पेश किए 10 संकल्प

राजस्थान का पहला पूर्ण बजट: दीया कुमारी ने पेश किए 10 संकल्प

शोभना शर्मा।  राजस्थान की भजनलाल शर्मा सरकार का पहला पूर्ण बजट बुधवार को पेश हुआ। डिप्टी सीएम और वित्त मंत्री दीया कुमारी ने राजस्थान विधानसभा में बजट पेश किया। अपने बजट भाषण की शुरुआत में ही दीया कुमारी ने विपक्ष को कटघरे में खड़ा किया। उन्होंने पीएम मोदी के संसद में दिए भाषण का जिक्र करते हुए निदा फाजली की गजल सुनाई। वित्त मंत्री ने ‘सफ़र में धूप तो होगी जो चल सको तो चलो…’ सुनाई, जिसे विपक्ष के नेता भी इत्मीनान से सुनते नजर आए।

विधानसभा अध्यक्ष वासुदेव देवनानी ने ठीक ग्यारह बजे वित्त मंत्री दीया कुमारी का नाम पुकारा, और दीया कुमारी का बजट भाषण शुरू होने से पहले ही विपक्ष ने हंगामा शुरू कर दिया। स्पीकर देवनानी ने विपक्ष को शांत कराया और बजट भाषण शुरू हुआ। दीया कुमारी ने पूर्ववर्ती सरकार से विरासत में मिले खस्ता हाल आर्थिक हालात और भजनलाल सरकार के प्रयासों का उल्लेख किया। उन्होंने बताया कि अब तक सरकार 53 प्रतिशत प्रस्तावित कामों को धरातल पर उतार चुकी है।

दीया कुमारी ने गजल का ये हिस्सा पढ़ा: “सफ़र में धूप तो होगी जो चल सको तो चलो सभी हैं भीड़ में तुम भी निकल सको तो चलो किसी के वास्ते राहें कहां बदलती हैं तुम अपने आप को ख़ुद ही बदल सको तो चलो”

दीया कुमारी ने बजट में सरकार के 10 संकल्प बताए:

  1. राजस्थान को 350 बिलियन डॉलर इकोनॉमी बनाना
  2. पेयजल, बिजली, सड़कों का विकास
  3. सुनियोजित शहरी विकास
  4. कृषि: किसानों का सशक्तिकरण
  5. प्रदेश का औद्योगिक विकास
  6. विरासत धरोहर संरक्षण
  7. पर्यावरण संरक्षण
  8. सबके लिए स्वास्थ्य, मानव संसाधन विकास
  9. वंचित परिवारों के लिए सामाजिक सुरक्षा
  10. गुड गवर्नेंस, परफाॅर्म, रीफॉर्म और ट्रांसफॉर्मेशन

इस बजट में राजस्थान के विकास की दिशा में महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं।

post bottom ad