latest-newsक्राइमजयपुरराजस्थान

पेपर लीक मास्टरमाइंड सुरेश ढाका सरेंडर करने की कोशिश में, SOG ने शर्त मानने से किया मना

पेपर लीक मास्टरमाइंड सुरेश ढाका सरेंडर करने की कोशिश में, SOG ने शर्त मानने से किया मना

मनीषा शर्मा । राजस्थान में पेपर लीक और डमी कैंडिडेट बैठाने वाले बदमाश सुरेश ढाका ने सरेंडर करने की कोशिश की है। एसओजी (स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप) के एडीजी वीके सिंह ने बताया कि सुरेश ढाका शर्त के साथ सरेंडर करना चाहता था, लेकिन एसओजी ने उसकी शर्त को मानने से इनकार कर दिया है। सिंह ने कहा कि कानून के अनुसार ही एक्शन लिया जाएगा और किसी भी शर्त को नहीं माना जाएगा।

एडीजी वीके सिंह ने बताया कि सुरेश ढाका सीनियर टीचर भर्ती पेपर लीक मामले में फरार मास्टरमाइंड है और उस पर 5 लाख रुपये का इनाम घोषित है। सुरेश ढाका ने एसओजी से संपर्क कर सरेंडर की इच्छा जताई, लेकिन एसओजी ने स्पष्ट कर दिया कि उसकी कोई भी शर्त मंजूर नहीं की जाएगी।

सिंह ने यह भी बताया कि सरेंडर की गुहार लगाने वालों में पेपर लीक करने से लेकर डमी अभ्यर्थी के रूप में बैठने वाले आरोपी शामिल हैं। फरार इनामी आरोपियों को गिरफ्तार करने या सही सूचना देने पर नकद पुरस्कार दिया जाएगा। सुरेश ढाका के अलावा, एसओजी ने अन्य सात बदमाशों पर भी इनाम घोषित कर रखा है। इनमें यूनिक उर्फ पंकज भांबू, भंवरलाल, दीपक राहड़, शैतान राम, वर्षा, रिंकू और विनोद रेवाड़ शामिल हैं।

एसओजी और पुलिस ने अब तक 12 में से 5 बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। इनमें पोरव कालेर, ओमप्रकाश ढाका, शम्मी उर्फ छम्मी, सुनील बेनीवाल और हनुमान मीणा शामिल हैं। इस साल एसओजी ने पेपर लीक से संबंधित 38 एफआईआर दर्ज की हैं, जिनमें 28 एफआईआर डमी कैंडिडेट बिठाने से संबंधित हैं और 10 एफआईआर पेपर लीक और फर्जी डिग्री से जुड़ी हुई हैं।

एडीजी वीके सिंह ने बताया कि पुलिस और एसओजी टीम लगातार पेपर लीक मामलों में कार्रवाई कर रही है और सुरेश ढाका को जल्द ही गिरफ्तार करने का प्लान बना रही है। सुरेश ढाका के सरेंडर की शर्तों को न मानते हुए एसओजी उसे खुद गिरफ्तार करना चाहती है।

post bottom ad