हेल्थ

आयुर्वेदिक उपायों से रखें पेट को स्वस्थ: जानें प्रभावी तरीके

आयुर्वेदिक उपायों से रखें पेट को स्वस्थ: जानें प्रभावी तरीके

शोभना शर्मा, अजमेर।  शरीर में होने वाली अधिकांश बीमारियां पेट से ही उत्पन्न होती हैं। इसलिए यदि आप स्वस्थ रहना चाहते हैं, तो पेट को स्वस्थ रखना बेहद महत्वपूर्ण है। आयुर्वेद के ये उपाय आपको प्राकृतिक और प्रभावी तरीके से पाचन तंत्र को सुधारने में मदद करेंगे।

संतुलित आहार का सेवन

आयुर्वेद संतुलित खानपान पर ज़ोर देता है जो आपके दोष (वात, पित्त, कफ) के अनुसार होता है। इसके लिए किसी आयुर्वेद विशेषज्ञ से परामर्श करें और अपने दोष का पता करें। भोजन का चुनाव उसी के अनुसार करें।

  • नियमित समय पर भोजन करें: भोजन छोड़ने या अनियमित खाने की आदतों से बचें।
  • धीरे-धीरे और चबाकर खाएं: पाचन बेहतर होता है।
  • मसालों का सेवन करें: अदरक, जीरा, धनिया, सौंफ, और हल्दी पाचन और पोषक तत्वों के अवशोषण में मदद करते हैं।

प्रोबायोटिक्स और प्रीबायोटिक्स खाद्यों का चुनाव

प्रोबायोटिक्स और प्रीबायोटिक्स आंत के बैक्टीरिया को स्वस्थ और संतुलित बनाए रखने में महत्वपूर्ण हैं।

  • प्रोबायोटिक्स खाद्य पदार्थ: दही, मट्ठा, और अचार पाचन और प्रतिरक्षा प्रणाली को बेहतर करते हैं।
  • प्रीबायोटिक्स खाद्य पदार्थ: लहसुन, प्याज, केला, और शतावरी आंतों में लाभकारी बैक्टीरिया को पोषण देते हैं।

अपनाएं ये आदतें

  • योग और प्राणायाम: पाचन को बेहतर और रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करते हैं।
  • पर्याप्त नींद: शरीर की मरम्मत और पुनर्जनन प्रक्रियाओं के लिए महत्वपूर्ण है।
  • तनाव मुक्त रहें: ध्यान और माइंडफुलनेस का अभ्यास करें।

काम आएंगे ये हर्बल उपचार

आयुर्वेद में विभिन्न जड़ी-बूटियों का उपयोग पेट की सेहत और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए किया जाता है।

  • त्रिफला: आंवला, बिभीतकी, और हरितकी का मिश्रण कोलन की सफाई और पाचन में मददगार होता है।
  • नीम और तुलसी: एंटी बैक्टीरियल गुण प्रतिरक्षा प्रणाली और आंत की सेहत को मजबूत बनाते हैं।
  • अश्वगंधा: तनाव को कम करती है।
  • जीरा-धनिया-सौंफ चाय: पाचन को मजबूत, सूजन को कम और शरीर को साफ करती है।
  • अदरक चाय: पाचन सुधारती, मतली को कम करती और पोषक तत्वों के अवशोषण को बढ़ाती है।

इन आयुर्वेदिक उपायों को अपनाकर आप पेट की समस्याओं से प्राकृतिक और प्रभावी तरीके से निपट सकते हैं और नीरोग रह सकते हैं।

post bottom ad