latest-newsजयपुरराजनीतिराजस्थान

जयपुर नगर निगम हेरिटेज मेयर मुनेश गुर्जर पर भ्रष्टाचार के आरोप, 6 पार्षदों ने की शिकायत

जयपुर नगर निगम हेरिटेज मेयर मुनेश गुर्जर पर भ्रष्टाचार के आरोप, 6 पार्षदों ने की शिकायत

मनीषा शर्मा। जयपुर नगर निगम हेरिटेज की मेयर मुनेश गुर्जर पर भ्रष्टाचार के आरोपों के चलते कांग्रेस के 6 पार्षदों ने रविवार को भाजपा प्रदेश मुख्यालय पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई। पार्षदों ने भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी से मुलाकात कर मेयर मुनेश गुर्जर और उनके पति पर भ्रष्टाचार और अनियमितताओं के आरोप लगाए। उन्होंने मेयर को पद से बर्खास्त करने की मांग की।

हेरिटेज नगर निगम में कांग्रेस के 47, भाजपा के 42 और 11 निर्दलीय पार्षद हैं, जिनमें से 6 निर्दलीय कांग्रेस का समर्थन करते हैं। कुल 100 वार्डों में बहुमत के लिए 51 पार्षदों की आवश्यकता होती है।

कांग्रेस पार्षद मनोज मुद्गल ने आरोप लगाया कि मेयर मुनेश गुर्जर ने अपने पति के साथ मिलकर पट्टों के नाम पर जनता से लाखों रुपए लिए हैं। एसीबी ने मुनेश के पति को रिश्वत लेते हुए पकड़ा था। इसके बाद कांग्रेस सरकार ने मुनेश को मेयर पद से हटा दिया था, लेकिन वे अब भी पद पर बनी हुई हैं और भ्रष्टाचार जारी है।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी ने कहा कि कांग्रेसी पार्षदों ने मेयर के खिलाफ भ्रष्टाचार की शिकायतें की हैं और इन पर विचार किया जाएगा।

4 अगस्त 2023 को एसीबी ने मुनेश गुर्जर के घर छापा मारकर उनके पति सुशील गुर्जर को दो लाख रुपए की रिश्वत मांगने के आरोप में गिरफ्तार किया था। इसके बाद, 5 अगस्त को मुनेश को मेयर पद से निलंबित किया गया था, लेकिन बाद में उन्हें कोर्ट से राहत मिली और वे फिर से पद पर वापस आ गईं।

कांग्रेस के पार्षदों ने भाजपा सरकार से भ्रष्ट मेयर के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है। एसीबी ने भी मुनेश गुर्जर के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों को सही पाया है और सरकार से कार्रवाई की अनुमति मांगी है।

post bottom ad