latest-newsजयपुरराजनीतिराजस्थान

बजरी माफिया के खिलाफहनुमान बेनीवाल ने की सख्त एक्शन की मांग

बजरी माफिया के खिलाफहनुमान बेनीवाल ने की  सख्त एक्शन की मांग

मनीषा शर्मा। राजस्थान में बजरी माफिया के खिलाफ सीबीआई की कार्रवाई को राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के संयोजक और नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने खुलकर समर्थन किया है। बेनीवाल ने कहा कि उनकी पार्टी के कार्यकर्ता पिछली सरकार के समय से ही बजरी माफिया के खिलाफ संघर्ष कर रहे थे, लेकिन पूर्व सरकारों की साठ-गांठ की वजह से कोई ठोस कार्रवाई नहीं हो सकी। अब सीबीआई ने कार्रवाई शुरू की है, लेकिन इसे केवल कागजों तक सीमित नहीं रखा जाना चाहिए। उन्होंने बजरी माफिया के खिलाफ सख्त एक्शन और नार्को टेस्ट की भी मांग की, ताकि माफिया और उनके राजनीतिक संबंधों की सच्चाई जनता के सामने आ सके।

बेनीवाल ने बताया कि MRS ग्रुप की आड़ में राजस्थान में जमकर भ्रष्टाचार हुआ है, जिससे सरकार को अरबों रुपये के राजस्व का नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा कि बजरी माफिया ने राज्य में 12 हत्याएं की हैं, जिसमें MRS ग्रुप के मालिक का नाम भी शामिल है। इसलिए, उन्होंने भजनलाल सरकार से इस ग्रुप के खिलाफ राज्य में दर्ज सभी मामलों की जांच की मांग की।

उन्होंने जोर दिया कि MRS ग्रुप के मालिक और उनके पार्टनर्स का नार्को टेस्ट किया जाना चाहिए, जिससे यह पता चल सके कि इस माफिया के खेल में कौन-कौन से राजनेता और अधिकारी शामिल हैं। सीबीआई को यह भी जांच करनी चाहिए कि इनके पार्टनर ने आत्महत्या क्यों की थी। बेनीवाल ने कहा कि अगर सीबीआई की कार्रवाई केवल कागजी है, तो इससे कुछ हासिल नहीं होगा। पहले भी ED ने ऐसी कार्रवाई की थी, जिसकी जानकारी MRS ग्रुप के मालिक को पहले ही हो गई थी।

हनुमान बेनीवाल ने कहा कि आज जब सीबीआई की रेट हो रही है, तब भी बजरी माफिया फेसबुक पर लिख रहा है कि उसके यहां कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। यह दुस्साहस दर्शाता है कि सरकार भी इनके आगे कमजोर दिख रही है। उन्होंने कहा कि राजस्थान में बजरी माफिया के खिलाफ आवाज उठाने से बड़े-बड़े लोगों को डर लगता था, लेकिन कुछ लोग जो नहीं डरते थे, उन्हें माफिया द्वारा लाखों रुपये देकर चुप कर दिया जाता था।

पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार और उससे पहले की भाजपा सरकार के कार्यकाल में बजरी माफिया ने राज्य में समानांतर सरकार चलाई थी। इनकी वजह से बजरी की दरें आसमान पर पहुंच गईं और नदियों के अस्तित्व को खतरा पहुंचा। बेनीवाल ने बताया कि उनकी पार्टी ने बजरी माफिया के खिलाफ बड़े जन आंदोलन किए थे, लेकिन अब तक कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई।

इस मुद्दे पर राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी ने प्रदेशभर में आंदोलन किए थे और संबंधित प्रशासन से जांच और कार्रवाई की मांग की थी। लेकिन, आज तक किसी भी कार्रवाई को अमलीजामा नहीं पहनाया गया है। बेनीवाल ने सरकार से अपील की है कि वे इस माफिया के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करें और जनता को न्याय दिलाएं।

post bottom ad