अजमेर के साथ 5 स्टेशनों का 500 करोड़ रुपये से होगा भव्य पुनर्विकास

अजमेर, 26 फरवरी 2024: आज अजमेर ( Ajmer ) के लिए एक ऐतिहासिक दिन है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अजमेर रेलवे स्टेशन सहित 6 अन्य स्टेशनों को अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत विकसित करने की घोषणा की है। जिसके बाद यहाँ सुविधाओं में विस्तार होगा। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सांसद भागीरथ चौधरी है।

पीएम नरेंद्र मोदी लोकसभा चुनाव से ठीक पहले राजस्थान को बड़ी सौगातें दे रहे हैं। सोमवार 26 फरवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 41 हजार करोड़ रुपए के विकास कार्यों का लोकार्पण कर रहे हैं। ये लोकार्पण अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत किया जा रहा है।

  • अजमेरब्यावरफतेहनगरजवाई बांधरानी और सोमेसर स्टेशनों को अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत विकसित किया जाएगा।
  • अजमेर स्टेशन का 498 करोड़ रुपये की लागत से भव्य पुनर्विकास होगा।
  • 10 मंजिला (जी+10) ऊँचा नया स्टेशन भवन, अगले 40 साल तक की आवश्यकताओं को ध्यान में रखकर बनाया जाएगा।
  • 8 प्लेटफॉर्म500 लोगों की क्षमता वाला वेटिंग एरियाएसी वेटिंग एरियास्वादिष्ट भोजन24 घंटे मशीनी सफाई और ढेर सारी सुविधाएं।
  • 17 आरओबी/आरयूबी/एलएचएस/सबवे का भी शिलान्यास/लोकार्पण ।

अजमेर स्टेशन के प्रोजेक्ट्स की जानकारी:-
अजमेर स्टेशन का लगभग 500 करोड़ की लागत से पुनर्विकास होगा। जानकारी के मुताबिक पुराने स्टेशन भवन को तोड़कर नया 10 मंजिल (जी+10) ऊँचा भवन, अगले 40 साल तक की आवश्यकताओं को ध्यान में रख कर डिज़ाइन किया गया है। अमृत भारत योजना के तहत अजमेर के समीप के अन्य स्टेशनों ब्यावर 15.53 करोड़, सोमेसर में 19.35 करोड़, फतहनगर में 18.85 करोड़, जवाई बांध में 18.26 करोड़ और रानी स्टेशन पर 14.95 करोड़ रूपयों की लागत से विकास कार्य किए जाएंगे

इनकी लागत एवं भौगोलिक स्थिति इस प्रकार है:-
1. एलएचएस संख्या 2-  लागत 1.61 करोड़ रुपये, चित्तौड़गढ़ जिले के गणेशपुरा व घनेट के पास स्थित
2. एलएचएस 31-  लागत 1.62 करोड़, उदयपुर जिले के चित्तौड़- उदयपुर हाईवे पर
3. एलएचएस 39- लागत 1.62 करोड़,  उदयपुर जिले के कांकरवा रोड व पटोलिया रोड स्थित
4. एलएचएस 48- लागत 1.61 करोड़ रुपए, उदयपुर जिले के चित्तौड़- उदयपुर हाईवे व तेरिया गांव स्थित
5. एलएचएस 66 – लागत 1.62 करोड़, भीलवाड़ा जिले के जोधास फाटक
6. आरओबी संख्या 104 लागत 65.4 करोड़ सिरोही जिले के पिंडवाड़ा में
7. आरओबी संख्या 1 व 50 लागत 65.4 करोड़, अजमेर जिले का  जोंसगंज फाटक
8. आरओबी संख्या 03- लागत 59.34 करोड़, अजमेर जिले का विज्ञान नगर फाटक, 9. आरओबी संख्या 53- लागत 37.48 करोड रुपए,  पाली जिले के सोजत -फुलाद रोड व स्टेट हाईवे 62 पर स्थित
10. आरओबी संख्या 72-   लागत 28.8  करोड़ , भीलवाड़ा जिले में रीको एरिया में स्थित11.  आरओबी संख्या 74, लागत 36.31 करोड़ रुपए, पाली जिले में भगवानपुरा व बिजोवा नाडोल स्थित
12. आरओबी की संख्या 75 लागत 42.78 करोड़, पाली जिले में रानी सिटी में स्थित
13. आर यू बी संख्या 105- लागत 2.3 करोड़,  सिरोही जिले के हजारी व नेशनल हाईवे 62 पर स्थित
14. सबवे संख्या 13- लागत 1.61 करोड़, अजमेर जिले के दौलत खेड़ा व जेठाना गांव स्थित
15. सबवे संख्या 164- लागत 2.3 करोड रुपए, बनासकांठा जिले के करजोड़ा स्थित
16. सबवे संख्या 165- लागत 2.3 करोड रुपए, बनासकांठा जिले के आबूरोड पालनपुर हाईवे पर स्थित
17. सबवे संख्या 61- लागत 1.2 करोड रुपए, भीलवाड़ा जिले में नीम का खेड़ा धुवाला में स्थित है।

Spread the love