latest-newsदेशराजनीति

मोदी सरकार 3.0 का पहला बजट: निर्मला सीतारमण का नया रिकॉर्ड

मोदी सरकार 3.0 का पहला बजट: निर्मला सीतारमण का नया रिकॉर्ड

मनीषा शर्मा। मोदी सरकार 3.0 का पहला बजट 23 जुलाई को पेश होगा। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण लगातार सातवीं बार बजट पेश करेंगी, जो एक नया रिकॉर्ड है। इससे पहले, मोरारजी देसाई ने लगातार छह बार बजट पेश किया था। संसदीय कार्य मंत्री किरेन रिजिजू ने शनिवार को जानकारी दी कि केंद्र सरकार की सिफारिश पर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने बजट सत्र 22 जुलाई से 12 अगस्त तक चलने की मंजूरी दी है।

यह बजट नई सरकार का पहला पूर्ण बजट होगा, जबकि फरवरी में सरकार ने अंतरिम बजट पेश किया था। बजट में मिडिल क्लास को टैक्स में छूट देने, महिला सशक्तिकरण, किसानों की आय बढ़ाने और रोजगार पर फोकस रहने की संभावना है। स्टैंडर्ड डिडक्शन लिमिट ₹50,000 से बढ़ाकर ₹1,00,000 की जा सकती है।

डिफेंस, रेलवे, इंफ्रास्ट्रक्चर और रिन्यूएबल एनर्जी सेक्टर में भी कई घोषणाएं हो सकती हैं। स्टार्टअप पर लगने वाले एंजल टैक्स को कम करने पर भी विचार किया जा सकता है। इलेक्ट्रॉनिक्स सब-असेंबली और कंपोनेंट के लिए ₹40,000 करोड़ की PLI स्कीम की संभावना है। इन्सॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड (IBC) 2.0 में संशोधन लाया जा सकता है। आंध्रप्रदेश को 1 लाख करोड़ का स्पेशल पैकेज मिल सकता है।

इस साल अप्रैल-मई में लोकसभा चुनाव होने के कारण 1 फरवरी को अंतरिम बजट पेश किया गया था। उस बजट में निर्मला ने गरीब, महिला, युवा और किसानों पर फोकस किया था।

निर्मला सीतारमण लगातार सातवीं बार बजट पेश कर नया रिकॉर्ड बनाएंगी। इससे पहले, मोरारजी देसाई ने लगातार छह बार और कुल 10 बार बजट पेश किया था। पी. चिदंबरम और प्रणब मुखर्जी ने 9 बार, यशवंत राव चव्हाण, सीडी देशमुख और यशवंत सिन्हा ने 7 बार बजट पेश किया था। मनमोहन सिंह और टी. कृष्णमचारी ने 6 बार बजट पेश किया था।

post bottom ad