एस्सेल समूह पर ED की छापेमारी, ज़ी एंटरटेनमेंट पर भी शिकंजा कसने की तैयारी

प्रवर्तन निदेशालय ( ED ) ने 24 जनवरी को दोपहर से मुंबई में एस्सेल समूह ( Essel Group ) के कार्यालयों में तलाशी ली। यह कार्रवाई एस्सेल ग्रुप के कॉन्टिनेंटल ऑफिस पर की गई। इस दौरान कर्मचारियों से भी पूछताछ हुई। मालूम हो कि भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) एस्सेल समूह की कंपनियों और ज़ी एंटरटेनमेंट की पहले से ही जांच कर रहा है।

ज़ी मीडिया सहित समूह की कई इकाइयों के कार्यालय इसी परिसर से संचालित होते हैं। सूत्रों के मुताबिक, इनमें ज़ी मीडिया कॉर्प के अलावा ज़ी लर्न, माउंट लिटेरा एजु फाउंडेशन, एस्सेल होम्स और एस्सेल इंफ्रा एंड हाउसिंग शामिल हैं।

ED की छापेमारी से एस्सेल समूह में हड़कंप मच गया है। समूह के शेयरों में भी गिरावट आई है। ज़ी एंटरटेनमेंट ( zee entertainment ) पर भी ED की जांच की संभावना है। कंपनी ने हाल ही में सोनी के साथ 8.4 बिलियन डॉलर के विलय समझौते को रद्द कर दिया था। इस विलय को रद्द करने के पीछे के कारणों की जांच ED कर सकती है।

विशेष विवरण:
ED ने छापेमारी के दौरान समूह के कई दस्तावेज जब्त किए हैं।
इन दस्तावेजों में वित्तीय विवरण, अनुबंध और अन्य महत्वपूर्ण दस्तावेज शामिल हैं।
ED इन दस्तावेजों का विश्लेषण कर एस्सेल समूह की वित्तीय स्थिति और उसके लेन-देनों की जांच करेगी।

ED की छापेमारी से एस्सेल समूह पर बड़ा संकट मंडरा रहा है। कंपनी को वित्तीय घोटाले के आरोपों का सामना करना पड़ सकता है।

Spread the love