महिला दिवस और पर्पल कलर का कनेक्शन

महिला दिवस (8 मार्च) के साथ पर्पल कलर का गहरा संबंध है।

पर्पल रंग का महत्व:

  • न्याय: यह रंग न्याय और समानता का प्रतीक है, जो महिला दिवस के मुख्य उद्देश्यों में से एक है।
  • साहस: यह रंग साहस और दृढ़ता का प्रतीक है, जो महिलाओं ने सदियों से लैंगिक समानता प्राप्त करने के लिए दिखाया है।
  • गौरव: यह रंग गौरव और सम्मान का प्रतीक है, जो महिलाएं अपने जीवन में प्राप्त करती हैं।
  • निष्ठा: यह रंग निष्ठा और समर्पण का प्रतीक है, जो महिलाएं अपने परिवार, समुदाय और समाज के लिए दिखाती हैं।

इतिहास:

  • 1908 में न्यूयॉर्क शहर में महिलाओं के प्रदर्शन के दौरान, पर्पल रंग का इस्तेमाल बैनर और कपड़ों में किया गया था।
  • 1910 में, कोपेनहेगन में आयोजित सोशलिस्ट इंटरनेशनल की दूसरी महिला सम्मेलन में, पर्पल रंग को महिला दिवस का आधिकारिक रंग घोषित किया गया था।
  • 1970 के दशक में, महिला मुक्ति आंदोलन के दौरान, पर्पल रंग महिलाओं के सशक्तिकरण का प्रतीक बन गया।

निष्कर्ष: पर्पल रंग महिला दिवस का एक महत्वपूर्ण प्रतीक है। यह रंग न्याय, साहस, गौरव, निष्ठा और महिलाओं की शक्ति का प्रतीक है।

Spread the love