latest-newsअजमेरराजस्थान

ईद उल अजहा का जश्न: दरगाह में जन्नती दरवाजा कड़ी सुरक्षा के बीच खुला

ईद उल अजहा का जश्न: दरगाह में जन्नती दरवाजा कड़ी सुरक्षा के बीच खुला

शोभना शर्मा, अजमेर।  सोमवार को मुस्लिम समुदाय ने धूमधाम से ईद उल अजहा का त्योहार मनाया। शहर की विभिन्न मस्जिदों, दरगाह और ईदगाह में नमाज अदा की गई। ख्वाजा साहब की दरगाह में जन्नती दरवाजा भी खोला गया, जहां बड़ी संख्या में जायरीन जियारत कर रहे हैं। नमाज अदा कर मुल्क की खुशहाली, भाईचारा, अमन-चयन की दुआ मांगी गई। नमाज के बाद से घरों में बकरों की कुर्बानी का सिलसिला शुरू हो गया है, जो 12 तारीख तक जारी रहेगा।

जिला व पुलिस प्रशासन ने सभी नमाज स्थलों पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की थी। नमाज के समय केसरगंज गोलचक्कर के आसपास वाहनों की आवाजाही पर पाबंदी रही। ईदगाह के बाहर प्रशासनिक अधिकारी खुद मौजूद रहकर व्यवस्थाओं की निगरानी कर रहे थे। आसपास के मकानों की छतों पर सुरक्षा कर्मियों ने दूरबीन से निगरानी रखी। दरगाह परिसर में भी विशेष सुरक्षा इंतजाम किए गए थे।

दरगाह के खादिम पिरसिद्ध नफीज मिया चिश्ती ने बताया कि आज ईद उल अजहा की नमाज अदा की गई, जिसमें बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए। दरगाह में जन्नती दरवाजा खोला गया, जिससे लोग जियारत कर सके। खादिम सैयद सखी ने सभी धर्मों के लोगों को ईद की शुभकामनाएं दीं और हिंदुस्तान के लिए नमाज अदा कर दुआ मांगी। उन्होंने कहा कि देश में भाईचारा बना रहे और देश हमेशा कामयाबी और तरक्की की तरफ बढ़ता रहे।

इस अवसर पर अजमेर की मस्जिदों में भी ईद उल अजहा की नमाज अदा की गई और कुर्बानी का सिलसिला शुरू हो गया। पूरे शहर में सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए, जिससे त्योहार शांतिपूर्ण तरीके से मनाया जा सके।

post bottom ad