माता-पिता की हत्या के बाद अफगानी लड़की ने एक-47 से तालिबान के 2 आतंकियों को मार गिराया, कई भागने पर मजबूर

0
59

अफगानिस्तान की एक लड़की ने अपने माता-पिता के मारे जाने के बाद तालिबान के दो आतंकियों कीगोली मारकर हत्या कर दी। लड़की के माता-पिता सरकार के समर्थक थे। इस कारण कुछ तालिबानी आतंकी उनके घर में घूसकर उन्हें बाहर घसीटकर लाएऔर उनकी हत्या कर दी थी। एक स्थानीय पुलिस ने न्यूज एजेंसी एएफपी को सोमवार को ये जानकारी दी।स्थानीय पुलिस प्रमुख हबिबुरहमान मालेक्जादा ने बताया कि यह घटना पिछले हफ्ते घोर प्रांत में हुई। तालिबानी आतंकियों ने प्रांत के एक गांव में कमर गुल के घर पर धावा बोल दिया था। आतंकी उसके पिता को ढूंढ रहे थे, जो गांव के प्रधान थे।मालेक्जादा ने बताया कि जब कमर गुल की मां ने उनका विरोध किया, तो उन्होंने घर के बाहर घसीटकर उसके माता-पिता को मार डाला। कमर गुल, जो घर के अंदर थी, उसने एके-47 से दो तालिबानी आतंकियों की गोली मारकर हत्या कर दी। साथ ही कुछ को घायल भी कर दिया।आतंकियों नेबाद में भी हमला कियाकुछ अधिकारियों का कहना है कि गुल की उम्र 14 से 16 साल के बीच है। अफगानियों के लिए उसकी सही उम्र का पता नहीं होना आम बात है। बाद में कई अन्य तालिबानी आतंकीउसके घर पर हमला करने आए, लेकिन कुछ ग्रामीणों और सरकार समर्थक मिलिशिया ने उन्हें खदेड़ दिया।प्रांतीय गवर्नर के प्रवक्ता मोहम्मद आरेफ अबर ने कहा कि अफगान सुरक्षाबलों ने गुल और उसके छोटे भाई को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया दिया है।सोशल मीडिया पर तारीफइस घटना के बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने गुल की खूब तारिफ की और उसे हीरो बना दिया। गुल की हेडस्कार्फ पहने हुए और हाथ में मशीनगन पकड़ीएक तस्वीर पिछले कुछ दिनों में खूब वायरल हुई है।एक फेसबुक यूजर नजीबा रहमी ने लिखा- उसके साहस को सलाम! शाबाश। एक दूसरे यूजर ने लिखा- पावर ऑफ ए अफगान गर्ल।शांति वार्ता के लिए सहमति के बाद भी हमला करते हैंतालिबानी आतंकीहमेशा से सरकार या सुरक्षा बलों के लिए मुखबिरी करनेके संदेह में गांव वालोंको मारते हैं। हाल ही में सरकारके साथ शांति वार्ता के लिए सहमति होने के बावजूद आतंकी सुरक्षा बलों पर हमला कर रहे हैं।
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

गुल की हेडस्कार्फ पहने हुए और हाथ में एक मशीनगन पकड़ी एक तस्वीर पिछले कुछ दिनों में खूब वायरल हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here