WHO ने कहा- अल्कोहल युक्त सैनेटाइजर से हाथों में जलन होने तक की कोई रिपोर्ट नहीं मिली

0
33

क्या वायरल : जले हुए हाथ की एक वीभत्स फोटो। दावा किया जा रहा है कि हथेली का ये हाल सैनेटाइजर का अधिक उपयोग करने से हुआ है। कोविड-19 की वैक्सीन और इलाज खोजने को लेकर दुनिया भर में शोध चल रहे हैैं। लेकिन, जब तक वैजानिक इसमें सफल नहीं हो जाते साफ-सफाई और सोशल डिस्टेंसिंग ही इस महामारी से बचने का एकमात्र उपाय है। संक्रमण फैलने की शुरुआत से ही हाथों की सफाई पर खास ध्यान देने की हिदायत दी जा रही है। नतीजतन कोरोना काल मेंअल्कोहल बेस्ड हैंड सैनेटाइजर का उपयोग कई गुना बढ़ा है। इसी बीच सोशल मीडिया पर ये दावा किया जा रहा है कि अल्कोहल के अधिक उपयोग से इंसान की चमड़ी का बुरा हाल हो सकता है। दावे के साथ झुलसी हुई हथेली की एक फोटो भी इंटरनेट पर वायरल हो रही है।सोशल मीडिया पर इस दावे से जुड़े मैसेजhttps://twitter.com/SnehaYogbharti/status/1276732457149059072फैक्ट चेक पड़ताल फोटो को गूगल और यैंडेक्स पर रिवर्स इमेज सर्च करने पर भी हमें इससे मिलती जुलती या यह फोटो इंटरनेट पर नहीं मिली। इसके बाद हमने उस दावे की पड़ताल शुरू की, जिसके साथ फोटो वायरल हो रही है। भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय, आयुष मंत्रालय या देश की शीर्ष रिसर्च संस्था आईसीएमआर ने ऐसी कोई गाइडलाइन जारी नहीं की है। जिसमें सैनेटाइजर के अधिक उपयोग से हाथ जलने का खतरा बताया गया हो। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की वेबसाइट पर हमने हैंड सैनेटाइजर के नुकसानों से जुड़ी जानकारी खोजना शुरू की। WHO की वेबसाइट पर सवाल-जवाब का एक सेक्शन है। यहां उन कॉमन सवालों के जवाब एक्सपर्ट टीम द्वारा दिए गए हैं, जो कोरोना काल में पूछे जा रहे हैं। हैंड सैनेटाइजर उपयोग करने के नुकसान से जुड़े सवाल और उनके जवाब भी हैं। इन जवाबों से ही वायरल हो रहे दावे की सच्चाई पता चलती है।सैनिटाइजर से हाथ को होने वाले नुकसान से जुड़े चार सवाल और WHO के जवाबपहला सवाल : क्या अल्कोहल युक्त हैंड सैनेटाइजर के अधिक उपयोग का हाथों पर कोई विपरीत असर होगा ?जवाब – एंटीसेप्टिक और एंटीबायोटिक्स में ऐसा संभव हो सकता है। लेकिन, हैंड सैनेटाइजर से जुड़ी न तो ऐसी कोई रिपोर्ट आई है। न ही ऐसा संभव है। बल्कि जितना ज्यादा इसका इस्तेमाल किया जाएगा, वायरस और बैक्टीरिया का खतरा उतना कम होगा।दूसरा सवाल : क्या अल्काहल हाथों को सुखाता या जलन पैदा करता है ?जवाब – इस दौर में बन रहे अल्कोहल युक्त सैनेटाइजर में स्किन को सॉफ्ट करने वाले तत्व होते हैं। ये तत्व स्किन को रूखा होने से बचाते हैं। यहां तक की कई रिपोर्ट्स में ये बात सामने आई है कि जो नर्स अल्कोहल युक्त सैनेटाइजर का नियमित उपयोग करती हैं, उनकी त्वचा का रूखापन पहले की तुलना में कम हुआ है। हैंड सैनेटाइजर उस सूरत में ही जलन पैदा करेगा, अगर आपका हांथ जख्मी हो। ऐसे में जख्मी हिस्से को पट्‌टी से कवर करना चाहिए। सैनेटाइजर से होने वाली एनर्जी के मामले भी दुनिया में बहुत कम (रेयर) हैं।तीसरा सवाल : अल्कोहल युक्त हैंड सैनेटाइजर का अधिकतर कितनी बार उपयोग किया जा सकता है ?ऐसी कोई सीमा नहीं है। यह सिर्फ एक भ्रांति है कि सैनेटाइजर के अधिक उपयोग के बाद हर 4 घंटे में हाथ धोने चाहिए। इसका कोई लॉजिकल कारण नहीं है।चौथा सवाल – अल्कोहल युक्त सैनेटाइजर से क्या आग का खतरा होता है ?हां, सभी अल्कोहल युक्त प्रोडक्ट्स को हाई टैम्परेचर और लपटों से दूर रखना चाहिए।WHO की वेबसाइट पर दिए गए यह सवाल और इनके जवाब यहां पढ़ेंनिष्कर्ष : अल्कोहल युक्त सैनेटाइजर के अधिक उपयोग से हाथ जलने वाली बात भ्रामक है। दुनिया की शीर्ष स्वास्थ्य संस्था WHO ने ही इसका खंडन किया है।
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

False claims of burning hands due to excessive use of sanitizer on social media

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here