सीकर शहर में सड़कों पर तो गांवों में खेतों में मंडराता रहा टिड्‌डी दल

0
55

सीकर शहर में रविवार शाम टिड्‌डी दल घुस गया। सड़कों पर टिड्‌डी दल के कारण लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। लोगों ने छतों पर खड़े होकर थाली बजा भगाने का प्रयास किया। इधर, श्रीमाधोपुर व खंडेला इलाके के दर्जनों गांवों में टिड्‌डी दल ने सात दिनों में दूसरी बार रविवार शाम को फसलों पर हमला कर दिया।टिड्‌डी दल ने गांवों में खेतों में खड़ी फसलों को नुकसान पहुंचाया। वही देर शाम को टिड्‌डी दल कस्बे के ऊपर से गुजरा तो लोगो में कौतुहल हो गया। कस्बे के लोगो ने छतों पर खड़े होकर पटाखे फोड़कर व थाली बजाकर तो खेतों में किसानों ने लकड़ी जलाकर धुएं से तथा खाली बर्तन बजाकर टिड्‌डी दल को खदेड़ने का प्रयास किया। एक दल ने श्रीमाधोपुर के पास स्थित बाइपास, चौसर आदि इलाकों में पड़ाव डाल दिया।मीरण गांव में फसल को पहुंचाया नुकसानटिड्डियां लगातार किसानों के लिये नुकसानदेह साबित हो रही है। शनिवार रात को टिड्डी दल ने मीरण गांव के खेतों में पड़ाव डाल दिया। सूचना पर कृषि विभाग की टीम मौके पर पहुंची व देर रात को कीटनाशक का छिडक़ाव शुरू करवाया। रातभर छिडक़ाव के बाद कई खेतों में टिड्डियां मृत व घायल पड़ी रही।रात भर पड़ाव के बाद मीरण गांव के खेतों में टिड्डियों ने पेड़ों को भी काफी नुकसान पहुंचाया। रात को हरे भरे पेड़ रविवार सुबह सूखे ठूंठ की तरह खड़े दिखाई दिये। कई जगह बाजरे की फसल को भी टिड्डी दल ने नुकसान पहुंचाया है। किसानों ने राजस्व विभाग के अधिकारियों से टिड्डी दल द्वारा फसल को पहुंचाये जा रहे नुकसान का आंकलन कर मुआवजा देने की मांग भी की है।मीरण गांव के वेदप्रकाश शर्मा ने बताया कि टिड्डियों ने रोहिड़ा के पेड़ों को अपना निशाना बनाया। खेतों में रोहिड़ा, खेजड़ी के पेड़ों को टिड्डी दल ने पत्तिरहित बना दिया। रविवार को बड़ा टिड्डी दल नेछवा, घिरणिया बड़ा गांव से भी गुजरा।
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

सीकर. शहर में रविवार शाम पहुंचा टिड्‌डी दल।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here