मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा- प्रधानमंत्री मोदी ने मन की बात में एक बार भी चीन का नाम नहीं लिया, आखिर ऐसा डर क्यों ?

0
116

भारत-चीन के बीच जारी तनाव काे लेकर कांग्रेस व भाजपा में सियासी जंग छिड़ी है। रविवार काे सीएम अशाेक गहलोत प्रेस कांफ्रेंस में भाजपा व पीएम नरेंद्र मोदी पर बरसे और कई सवाल दागे।गहलोत ने कहा- रविवार को पीएम मोदी ने मन की बात की लेकिन इसमें एक बार भी चीन का नाम नहीं लिया। भारत सुपर पावर है फिर उनके मुंह से चीन शब्द क्यों नहीं निकलता, आखिर ऐसा डर क्यों‌? 2014 में एनडीए की सरकार बनने के बाद से पीएम मोदी 18 बार चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मिल चुके हैं। वे अहमदाबाद में जब चीनी राष्ट्रपति के साथ झूला झूल रहे थे तब भी सीमा पर भारत व चीनी सैनिकों में टकराव हो रहा था।माेदी सरकार काे बताना चाहिए कि एलएसी पर क्या स्थिति है? मोदी ने यह कहकर ब्लंडर किया है कि चाइना हमारी जमीन पर नहीं आया और न हमारी किसी चौकी पर कब्जा किया। मोदी की महज वक्तव्य देने में मास्टरी है, जनता कब तक उनके वक्तव्य सुनती रहेगी।गहलोत ने गृहमंत्री अमित शाह पर तंज कसते हुए कहा कि काेराेना के समय में भी उन्हें इस काम से फुर्सत नहीं है कि किस सरकार को गिराना है और किसे उठाना है। बता दें कि कांग्रेस ने चीन मामले में अपने सभी सीएम से रविवार को प्रेस काॅन्फ्रेंस करने को कहा था। इसी क्रम में यह प्रेस काॅन्फ्रेंस हुई थी।गहलाेत ने माेदी पर दागे ये सवाल मोदी को देश को बताना चाहिए कि बाॅर्डर पर जो हो रहा है, उसकी क्या वजह है? क्या वजह है कि नरेंद्र मोदी के बयान का चीन में स्वागत हो रहा है? इतने कम अरसे में हमारे सभी पड़ाेसी हमारे खिलाफ क्यों हो गए? पाकिस्तान तो पहले से ही हमारे खिलाफ था। अब श्रीलंका व नेपाल भी चाइना के दबाव में हैं। देशवासियों को जानने का हक है कि 15 जून को हुए संघर्ष में वास्तव में हमारे कितने सैनिक मारे गए, हमने चीन के कितने मारे? चीन ने कितने क्षेत्र पर कब्जा किया? कितना कंस्ट्रक्शन हो रहा है या नहीं हो रहा?
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (फाइल फोटो)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here