पहले दिन सामाजिक विज्ञान की परीक्षा देने पहुंचे स्टूडेंट्स, धौलपुर में सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ीं

0
22

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की कक्षा 10वीं के बाकी दो पेपर सोमवार से शुरू हो गए। कोरोना संक्रमण के बीच यह परीक्षा बोर्ड और राज्य सरकार दोनों के लिए बड़ी चुनौती है। कारण- दोनों पेपरों में प्रत्येक में 11.5 लाख स्टूडेंट्स बैठेंगे। यह परीक्षाएं कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन की वजह से रोकनी पड़ी थी। लेकिन, लॉकडाउन में राहत के साथ ही राज्य सरकार ने इन परीक्षाओं को फिर से करवाने का निर्णय लिया था।परीक्षा केदौरान धौलपुर जिले में बसई नवाब के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय मेंस्कूल प्रशासन की लापरवाही के चलते सोशल डिस्टेंस की खुलेआम धज्जियां उड़ाईं गईं। परीक्षा देने आएबच्चे परीक्षा केंद्रों परग्रुप बनाकर साथ खड़े नजर आए।सोमवार सुबह 8:30 बजे से सामाजिक विज्ञान कापहला पेपर शुरू हुआ, जोसुबह 11:45 बजे तक चला। मंगलवार को गणित की परीक्षा होगी। परीक्षार्थियों को एक घंटा पहले परीक्षा केंद्रों पर पहुंचने को कहा गया था।चौमू में थर्मल स्क्रीनिंग और सैनिटाइजेशन के बाद परीक्षार्थियों को प्रवेश दिया गया।6 हजार से ज्यादापरीक्षा केंद्रों पर होगी परीक्षाबोर्ड सचिव अरविंद सेंगवा ने कहा कि बोर्ड द्वारा मार्च में कक्षा 10वीं की परीक्षा के लिए5685 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे। लेकिन, अब संक्रमण को देखते हुए और सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन रखने के लिए521 परीक्षा केंद्र और बढ़ाए गए हैं।शेषदोनों पेपर 6000 से ज्यादापरीक्षा केंद्रों पर आयोजित होंगे।कक्षा 10वीं की परीक्षाएं पूर्व में छपे प्रश्न पत्रों से ही ली जा रही हैं। यह परीक्षा प्रश्नपत्र प्रदेशभर में पहले से ही पहुंचे हुए हैं। नए परीक्षा केंद्रों पर भी प्रश्न पत्र पहुंचाए गए।भीलवाड़ा में भी परीक्षा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाया गया।कोविड-19 संक्रमणको देखते हुए विशेषव्यवस्थाबोर्ड ने कोविड-19 को देखते हुए परीक्षा केंद्रों पर परीक्षार्थियों की सुरक्षा के लिए कुछ उपाय सुनिश्चित किए हैं। इनमें जो बच्चे परीक्षा केंद्रों पर पहुंचेंगे उन सभी का चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के कार्मिकों द्वारा थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। प्रत्येक बच्चे के हैंड सेनेटाइज कराए जाएंगे। परीक्षा केंद्रों में एक से दूसरे बच्चे की बीच में 6 फीट की दूरी रखी जाएगी।अजमेर मेंदसवीं बोर्ड की परीक्षा शुरू होने पर बोर्ड अध्यक्ष ने जवाहर स्कूल पर जाकर निरीक्षण किया।एक दिन पहले सुप्रीम कोर्ट ने दोनों प्रश्न पत्रों को रद्द करने वाली याचिकाखारिज की थीइससे एक दिन पहलेसुप्रीम कोर्ट ने राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की कक्षा 10वीं के बचे दो प्रश्न-पत्र की परीक्षा रद्द करने की मांग वाली याचिका रविवार को खारिज कर दिया था। कोर्ट ने कहा थाकि शैक्षणिक संस्थाओं में कोर्ट को न्यूनतम दखल देना चाहिए। हालांकि, आरबीएसई और आईसीएसई जैसे सेंट्रल बोर्ड तक ने अपनी बची हुई परीक्षा कैंसिल कर दी थी। ऐसे में राजस्थान सरकार के इस फैसले से अभिभावकों में भी नाराजगी है।भीलवाड़ा के स्कूल में परीक्षा देते छात्र।(फोटो: रिंकू गधेनिया, मुकेश परिहार, फतेहलाल, पंकज बागड़ा)
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

धौलपुर में बसई नवाब के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में सोमवार को 10 वीं बोर्ड की परीक्षा के दौरान सोश्ल डिस्टेंसिंग के नियमों की धज्जियां उड़ती नजर आईं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here