बदमाशों की गोली से बचने के लिए नहर में तीन बच्चों के साथ कूदे थे पति-पत्नी, तीन दिन मिला बच्ची का शव

0
106

(परिमल हर्ष).बीकानेर के बज्जू में गुरुवार को बदमाशों की गोली के बचने के लिए पति-पत्नीतीन बच्चों के साथ नहर में कूद गए थे। इसमें दो बच्चों की मौत हो गई। शुक्रवार को सात साल के एक बच्चे का शव नहर से बरामद किया गया। वहीं, शनिवार को घटनास्थल से60 किमी दूर ढाई साल की बच्ची का शव मिला।मोटर बोट और कांटों के तार के सहारे तलाशते रहे दोनों बच्चों कोएसडीआरएफ के 16 जवानों की रेस्क्यू टीम ने नहर में तीन दिन तक सर्च ऑपरेशन चला रखा था। दंपति केसात साल के बेटे विकास का शव शुक्रवार शाम को 7 बजे मिला था। अंधेरा होने से सर्च ऑपरेशन रोक दिया गया। बच्ची को तलाशने के लिए शनिवार को फिर सर्च ऑपरेशन चलाया गया था। करीब 60 किमी क्षेत्र में मोटर बोट और कांटों के तार के सहारे से शवों का ढूंढ़ने का काम किया।यह है मामलानहर में छलांग लगाने वाले मगाराम देवासी ने बज्जू थाने में मामला दर्ज करवाया है। उसने पुलिस को बताया कि तेजपुरा निवासी तिलोकाराम के साथ पैसे को लेकर विवाद चल रहा था उसने षड्यंत्र रचकर मरवाने का प्रयास किया।गुरुवार दोपहर बदमाशों की गोली से बचने के लिए मगाराम ने पत्नी पप्पूदेवी और तीन बच्चों के साथ नहर में छलांग लगा दी थी। मगाराम और पप्पूदेवी के साथ मनीष को तो बचा लिया था। लेकिन विकास और ढाई साल की रवीना पानी की तेज धार में बह गए थे।
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

बज्जू। नहर से ढाई साल की बच्ची का शव तीन दिन बाद निकाल लिया गया। उसके भाई का शव शुक्रवार को निकाल लिया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here