दरगाह दीवान बोले- आतंकवाद पाकिस्तान की स्टेट पॉलिसी का हिस्सा, चीन जैसे देश उनकी मदद कर रहे

0
63

(आरिफ कुरैशी). शनिवार कोदरगाह के दीवान सैयद ज़ैनुल आबेदीन अली खा ने कहा कि आतंकवाद पाकिस्तान की स्टेट पॉलिसी का हिस्सा है। उन्होंनेपाकिस्तान की संसद में इमरान खान द्वारा दिए गए एक विवादित बयान पर ये बात कही।उन्होंने पाक प्रधानमंत्री इमरान खान के बयान की निंदा करते हुए कहा की बड़े शर्म बात है की ‘गुरुवार को इमरान खान ने पाकिस्तानी संसद में कहा कि अमेरिकी सेना ने पाकिस्तान में घुसकर लादेन को ‘शहीद’ कर दिया’पाक पीएम का यह बयान आतंकवाद के प्रति पाकिस्तान के रवैये को साफ जाहिर कर रहा है।चीन जैसे देश आतंकवाद को बढ़ावा देने के लिए पाकिस्तान जैसे देश को हथियार और आर्थिक मदद देते हैं।दरगाह दीवान ने कहा की आज तक पाकिस्तान लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद जैसे संगठनों को पहुंचने वाली फंडिंग पर नकेल नहीं कस पाया है। इसलिए फाइनेंशल ऐक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) ने बुधवार को फैसला किया कि पाकिस्तान को ग्रे सूची में ही रखा जाएगा। जो की बिल्कुल सही निर्णय है। क्योंकी बार बार भारत को निशाना बना रहे। आतंकी लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद जैसे संगठनों को पाकिस्तान ने अपनीजमीन पर गतिविधियां करने दिया है। पाकिस्तान में जैश के संस्थापक मसूद अजहर और 2008 के मुंबई धमाकों के ‘प्रॉजेक्ट मैनेजर’ साजिद मीर जैसे कई आतंकी आजाद घूम रहे हैं। जो भारत ही नही पुरी दुनिया के लिए एक बड़ा ख़तरा है।दरगाह दीवान ने कहा की पाकिस्तान की आतंकी हरकतों को चीनहमेशा से समर्थन करता हैं।यही करण है की इस्लाम के नाम का सहारा लेने वाले आतंकी संगठन चीनके विरुद्ध कभी भी कोई कार्यवाही नही करते। जब की हक़ीक़त यह है की आज दुनिया मे सब से ज्यादा मुसलमानो और उनके अधिकारो पर चीन रोक लगा रहाहै। चीन में मुसलमानों को प्रताड़ित किया जा रहा है।जिस के लिए भारत को भी मुस्लिम देशों के साथ मिलकर आवाज़ उठाने की ज़रूरत है ।ऐसा पहली बार नहीं हुआआबेदीन ने कहा की ऐसा पहली बार नहीं है जब पाकिस्तान के सर्वोच्च पद पर बैठे लोगों ने ऐसा विवादित बयान दिया है। ओसामा जैसे कई ख़तरनाक आतंकियों को लेकर पाकिस्तान का रुख़ हमेशा नरम रहा हैं। उन्होंने कई मौकों पर ग्लोबल आतंकियों को आतंकी मानने से इनकार किया है। वह तालिबानी लड़ाकों को भी ‘भाई’ तक बता चुके हैं। दुनिया की सभी महाशक्तियांइस बात को समझे की एशिया मे आतंक की जड़े कहा है और उन जड़ो को चीन जैसे देश मज़बूत कर रहेहैं।
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

अजमेर दरगाह के दीवान सैयद ज़ैनुल आबेदीन अली खा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here