30 महीने में पुलिस नहीं कर सकी हत्या का खुलासा, सीबीआई को लिखा पत्र

0
120

30 महीने से एक पिता अपने पुत्र के हत्यारों को सजा दिलाने का इंतजार कर रहा है। पिता का आरोप है कि अनुसंधान अधिकारी 30 महीने में भी पुत्र के हत्या करने वालों को गिरफ्तार नहीं कर सके हैं। अब पिता ने सीबीआई नई दिल्ली को पत्र लिखा है। मामला मांडलगढ़ तहसील के भगवानपुरा निवासी रामनाथ का है। उनके पुत्र दिनेश नाथ की 2018 में संदिग्ध परिस्थितियाें मौत हो गई। पुलिस ने शुरुआत में सिर्फ धारा 174 के तहत तफ्तीश शुरू की जबकि रामनाथ का आरोप था कि उसके पुत्र दिनेश की हत्या हुई है।इसके बावजूद पुलिस ने हत्या की धारा नहीं जोड़ी थी। इसके बाद कोर्ट में शिकायत देने के बाद हत्या की धारा जोड़ी गई। मांडलगढ़ थाने के तत्कालीन थानाधिकारी ने जांच नहीं की। यहां तक कि रामनाथ पुलिस अधीक्षक के समक्ष दो बार उपस्थित होने और पुलिस के अनुसंधान अधिकारी के बदले जाने के बावजूद अभी तक हत्या का राजफाश नहीं हुआ।यहां तक पीड़ित रामनाथ जोधपुर हाईकोर्ट में पेश हो चुका है जहां से संबंधित मामले के नतीजे की रिपोर्ट पेश नहीं की। रामनाथ के शक का कारण यह है कि पुत्र दिनेश की हत्या से पहले वह चार दिन से गायब था। दिनेश से आखिरी बार मिले लोगों से भी पूछताछ नहीं की।पोस्टमार्टम रिपोर्ट 2-3 दिन पहले दम घुटने से मौत का कारण बताया जबकि लाश उनके खेत पर मिली जहां वे रोज आ जा रहे थे। दो-तीन दिन पहले की लाश खेत तक रातोंरात कैसे पहुंची? ऐसे कई तथ्य हैं जिन पर पुलिस की ओर से छानबीन नहीं की गई।
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here