सीबीआई जांच की मांग को लेकर शेखर सुमन ने ऑनलाइन फोरम बनाया, बोले- ये मामला उतना साधारण नहीं जितना दिख रहा

0
21

अभिनेतासिंह राजपूत की आत्महत्या के मामले में अब सीबीआई जांच की मांग तेज हो गई है।एक्ट्रेस रूपा गांगुली के बाद अब अभिनेता शेखर सुमन ने भी इस मांग को उठाया है। शेखर ने इसके लिए #जस्टिस फॉर सुशांत फोरम नाम से एक मंच भीबनाया है।सुशांत की मौत केबाद से ही शेखर लगातार अपने ट्विटर अकाउंट से बॉलीवुड पर सवाल खड़े कर रहे हैं।22 जून को किए अपने ट्वीट में शेखर ने लिखा था, ‘फिल्म इंडस्ट्री के सारे शेर बनने वाले कायर सुशांत के चाहने वालों के कहर से, चूहे बनकर बिल में घुस गए हैं। मुखौटे गिर गए हैं…पाखंड उजागर हो गया है। दोषियों को सजा मिलने तक बिहार और भारत चुप नहीं बैठेगा। बिहार जिंदाबाद।’सुशांत ने सुसाइड नोट जरूर छोड़ा होगा23 जून को उन्होंने एक के बाद एक तीन ट्वीट किए। पहले ट्वीट में लिखा, ‘ये बिल्कुल स्पष्ट है, फिर भी अगर मान भी लिया जाए कि सुशांत सिंह ने आत्महत्या की है, तो भी वो जितनी दृढ़ इच्छाशक्ति वाले और बुद्धिमान थे, तो उन्होंने निश्चित रूप से सुसाइट नोट भी छोड़ा होगा। कई अन्य लोगों की तरह मेरा दिल भी मुझसे कहता है कि ये मामला उतना साधारण नहीं है, जितना कि दिख रहा है।’##किसी और के साथ सुशांत जैसी त्रासदी ना होअपने दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘सुशांत एक बिहारी थे, इसलिए बिहारी भावना सबसे आगे है। लेकिन, मैं इस तथ्य को अनदेखा नहीं कर रहा हूं कि ये मामला भारत के सभी राज्यों के लोगों की चिंता से जुड़ा है। यहां सुशांत जैसी त्रासदी किसी अन्य प्रतिभाशाली युवा के साथ नहीं होनी चाहिए, जो खुद के दम पर बनने की कोशिश कर रहा हो।’##सीबीआई जांच की मांग को लेकर बनाया फोरमतीसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘मैं #जस्टिस फॉर सुशांत फोरम बना रहा हूं। जहां मैं सुशांत की मौत मामले में सीबीआई जांच शुरू करने की मांग को लेकर सरकार पर दबाव बनाने के लिए हर एक से निवेदन करूंगा। इस तरह के अत्याचार और गैंगिज्म और माफियाओं का पर्दाफाश करने के लिए उनकी आवाज को उठाना होगा। मैं आपके समर्थन के लिए प्रार्थना करता हूं।’##अपने गुस्से को कम मत होने देंवहीं बुधवार (24 जून) को ट्वीट में शेखर ने लिखा, ‘अपने गुस्से कम मत होने दीजिए…आंदोलन को चलने दीजिए…हम दोषियों को नहीं छोड़ेंगे।भले ही इसके लिए हमें दुनिया के अंत तक क्यों ना जाना पड़े। #जस्टिस फॉर सुशांत फोरम।’बुधवार को ही एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘#जस्टिस फॉर सुशांत फोरम पर जबरदस्त प्रतिक्रिया देने के लिए आपका धन्यवाद…मैं इसके तौर-तरीकों की रूपरेखा तैयार करने और इसे एक आकार देने की प्रक्रिया में हूं। कृपया उम्मीद ना खोएं और धैर्य रखें…मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि उनके मामले को अंत तक पहुंचाने के लिए हम अपनी ओर से पूरी कोशिश करेंगे।’##सुशांत की मौत का बदला लेंगेइससे पहले 19 जून को ट्वीट में शेखर ने लिखा था, ‘एक बिहारी को तो मार दिया पर अभी हम सब जिंदा हैं। ये भूलना मत। बदला तो लिया जाएगा। जो भी इसके गुनहगार हैं, उनको सजा तो मिलेगी। बिहारीज ऑफ द वर्ल्ड यूनाइट।’##इंडस्ट्री में कुछ राक्षस भी हैं16 जून को ट्वीट में शेखर ने लिखा था, ‘हमारी फिल्म इंडस्ट्री में कुछ ऐसे राक्षस हैं जो बहुत खतरनाक और जहरीले हैं, माफिया हैं और उन्होंने हमेशा सीधे-सादे, कमजोर लोगों को दबाया है, जिन्होंने उनकी बात नहीं मानी…ये दुर्घटना भी कुछ इसी वजह से हुई है।’इसी दिन किए अपने अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘अभी कई जानें और जाएंगी…अभी और बर्बादी होगी…दिल टूटेंगे, झगड़े फसाद होंगे। दुनिया तबाह होगी…निर्दोष लोग वहशियों का शिकार होंगे। ताकत कमजोरों को, मजलूमों को दबाएंगी, मसलेंगी। हम एक बहुत ही खौफनाक दौर से गुजर रहे हैं।’बहिष्कार के लिए शुरू हुई थी ऑनलाइन पिटीशनइससे पहले सुशांत की खुदकुशी को लेकर जयश्री शर्मा श्रीकांत नाम की एक फेसबुक यूजर ने नेपोटिज्म फैलाने वालों के बहिष्कार के लिए ऑनलाइन पिटीशन शुरू कर दी थी। जिस पर 24 घंटे में 16.85 लाख से ज्यादा लोगों ने साइन कर दिए थे। इसे Change.org प्लेटफॉर्म पर शुरू किया गया था। हालांकि, बाद में इसे फेसबुक ने हटा दिया था।
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

शेखर सुमन ने सुशांत की मौत मामले में सीबीआई जांच कराने की मांग को लेकर #जस्टिस फॉर सुशांत फोरम बनाया। उन्होंने कहा कि वे सुशांत की मौत का सच पता लगाकर ही रहेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here