लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग में इस बार घर पर योग, दुनियाभर से परिवार के साथ योग की मोटिवेशनल तस्वीरें

0
25

कोरोनावायरस के संक्रमण से बचने के लिए हर जगहइम्युनिटी बढ़ाने पर जोर दिया जा रहा है। योगा स्ट्रेस हार्मोन्सको कम करता है, जिसका सीधा असर शरीर में बढ़ी हुईइम्युनिटीके रूप में देखा जा सकता है। यही वजह है किलॉकडाउन में बड़ी संख्या में लोगों ने योगके महत्व को समझा है। इस दौरान दुनिया भर में लोगों ने योग-प्राणायमकरके खुद को तो स्वस्थ्य बनाए ही रखा,साथ में परिवारको योगमें शामिल करकेरिश्ते मजबूत किए।भारत का योगपूरी दुनिया में लोगों की लाइफस्टाइल का हिस्सा बन रहा है। हालांकि, 2020 का अंतरराष्ट्रीय योग दिवस चुनौतियां साथ लेकर आया है। दुनिया एक ऐसी महामारी से जूझ रही हैजिससे बचने के लिए इस बार लोगों को अपने घर पर ही योग करना होगा। पीएम मोदी ने भी लोगों से घर पर ही योग करने की अपील की है।लॉकडाउन के दौरान परिवार के नन्हें सदस्यों के साथ किए योगा के किस्सों को लोगों ने फोटोमें समेटकर सोशल मीडिया पर साझा किया, उन्हीं की तस्वीरें -पैरिस की योगा टीचर डाफने ओलिवुड अपनी भतीजियों अवा और ताली के साथ लॉकडाउन में योग करते हुएएमी मैगग्लिन का बेटा, उनकी योगा प्रैक्टिस का अहम हिस्सा है। लॉकडाउन में जब उनके आस-पास कोई योगा सीखने वाला नहीं था। तब इसी बेटे ने उनके और उनके योग के अकेलेपन को दूर किया।एमी मैगग्लिन के बेटे ने योगा के कुछ स्टेप्स भी सीखना शुरू कर दिए हैं।लॉकडाउन ने अन्य जीवों और इंसान के बीच की दूरियों को कम किया । इसका जीता-जागता उदाहरण है जूलिया रज़ुमोस्काया की साउथ अफ्रीका के बोल्डर बीच पर पैंगुइन के साथ योगा करती ये फोटो।ट्रेनर पुष्कल चौबे द्वारा सोशल मीडिया पर शेयर की गई यह तस्वीर साफ बयां कर रही है कि योगा बॉडी किस हद तक बॉडी में फ्लैक्सिबिलिटी के साथ ही धैर्य को भी बढ़ता है।अपनी बेटी के साथ अर्ध पूर्वोत्तनासन की मुद्रा में स्पेन की ओलगा। इस आसन से कलाई, कंधे पीठ और रीढ़ को मजबूती मिलती है।योग को लेकर जागरुकता की शुरुआत घर से होनी चाहिए। और उस उम्र में होनी चाहिए जब बच्चा कच्ची मिट्‌टी की तरह होता है। यूके का यह दम्पति यही कर रहा है। सोशल मीडिया पर इस तस्वीर को शेयर करते हुए उन्होंने लिखा – फैमिली योगा, बॉन्डिंग, फिजिकल स्किल के साथ मिलकर क्वालिटी टाइम बनता है।छोटे बच्चों के सामने लॉकडाउन के दौरान स्कूल बंद होने की सूरत में समय काटना भी एक बड़ा चैलेंज था। लंदन की योगा टीचर ने परिवार और बच्चों के लिए इसका हैल्दी उपाय निकाला। योगा को थोड़ा मनोरंजक बनाकर। फोटो शेयर करते हुए लिखा – ये एक अलग तरह का ज्योमैट्री सेशन है।चाइल्ड योगा टीचर हेली ग्रेव्स की तीन में से एक बेटी हूबहू उनके जैसा बनना चाहती है। जितने समय वे योगा करती हैं, उतने ही समय उनकी बेटी भी उनके साथ योगा करती है। हेली ग्रेव्स ने यह फोटो शेयर करते हुए लिखा : जब घर में तीन बच्चे हों, तो शांति रहना लगभग नामुमकिन है। वो भी तब जब उनमें से एक हूबहू वही करना चाहती हो, जो आप कर रहे हैं।हरियाली के बीच अपनी बेटी के साथ सूर्य नमस्कार करती हुई चेक रिपब्लिक की एक योगा टीचर एडली। उन्होंने फोटो के साथ अपने इंस्टा अकाउंट Adlyyoga पर लिखा : सूर्य नमस्कार दिन शुरू करने, ऊर्जा प्राप्त का सबसे बेहतरीन उपाय है।चाइल्ड योगा टीचर एमिली मेटजेज ने यह फोटो शेयर करते हुए योग के फायदे गिनाए। कहा – योग का अभ्यास करने से हमारी लिगामेंट्स और मांसपेशियां लंबी हो जाती हैं। इससे आने वाली फ्लैक्सिबिलिटी हमारी गति को बढ़ाती है और कई तरह के दर्द से राहत मिलती है।Inflexibleyogis नाम के इंस्टा पेज पर मां के साथ फ्लैक्सिबिलिटी का अभ्यास कर रहे दो छोटे बच्चों का यह वीडियो लोगों को खूब पसंद आ रहा है।पाला क्रैरी की यह बिल्ली हर काम की तरह योग में भी उनका भरपूर साथ देती है।यूएस के नॉर्थ कैरोलीना की रहने वाली जॉइस ने बताया वर्किंग मॉम के लिए लॉकडाउन जितना स्ट्रैसफुल है। योगा उतना ही राहत भरा है।मलेशिया की योगा ट्रेनर बियांका ओलिवेरा अपनी बेटी के साथ योगा करते हुए<टोरंटो की योगा टीचर इवोन सुलिवन ने परिवार के बच्चों की योगा करते हुई फोटो शेयर की। लिखा: ये भविष्य के योगी हैं।
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

People from all over the world did yoga with family in the era of social distancing

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here