राजस्थान बचा रहा यह सियासत में बहुत बड़ी विजय है

0
16

राज्यसभा चुनावों में कांग्रेस प्रत्याशियों को जीत मिलने के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भाजपा पर एक बार फिर से हमला बोला। गहलोत से पूछा गया कि इस चुनावी जीत से क्या सियासी संदेश गया है। इस पर गहलोत बोले, षड्यंत्र का पर्दाफाश हो गया, टाइमली हम लोगों ने विधायकों को रिक्वेस्ट करी।कभी कर्नाटक को, कभी मध्यप्रदेश को, गुजरात में जो इन्होंने हॉर्स ट्रेडिंग की वो सबके सामने है, 7 विधायक हमारे तोड़ दिए, राजस्थान बचा रहा। मैं तमाम विधायकों को, बीटीपी के लोगों को, सीपीएम के लोगो को, इन्डिपेंडेंट साथियों को बधाई देना चाहूंगा कि उन्होंने एकजुटता दिखाई है और वोटिंग पैटर्न वही रहा है जो हम लोगों ने तय किया था। यह सियासत में बहुत बड़ी विजय है।एमपी जो 22 गए, उन्हेंअब कोई पूछ नहीं रहागहलोत ने कहा कि एमपी में जो 22 लोग गए हैं, उनकी दुर्गति हो रही है। सिंधिया की जो दुर्गति हुई वो सबके सामने है इसलिए राजस्थान में कांग्रेस विधायक दल एकजुट रहेगा। गहलोत बोले हम गवर्नेंस देंगे बहुत चैंलेंजेज सामने हैं। एक तरफ कोरोना, दूसरी तरफ आर्थिक संकट जो लॉकडाउन से पैदा हुआ।गहलोत बोले बीजेपी से पूछो, आपके पास क्या सामान था ? क्यों एक्स्ट्रा उम्मीदवार खड़ा किया ? उनको मालूम था नहीं जीतेंगे उसके बावजदू भी क्योंकि एक दलित खड़ा हो गया था कांग्रेस से, ये दलित विरोधी लोग हैं बीजेपी वाले, इसलिए उन्होंने जानबूझकर के नीरज डांगी को हराने के लिए उम्मीदवार खड़ा किया, विधायक लोगों ने जवाब दे दिया उनका।
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

जयपुर. शुक्रवार को राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशियों की जीत के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत।

राज्यसभा चुनावों में कांग्रेस प्रत्याशियों को जीत मिलने के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भाजपा पर एक बार फिर से हमला बोला। गहलोत से पूछा गया कि इस चुनावी जीत से क्या सियासी संदेश गया है। इस पर गहलोत बोले, षड्यंत्र का पर्दाफाश हो गया, टाइमली हम लोगों ने विधायकों को रिक्वेस्ट करी।

कभी कर्नाटक को, कभी मध्यप्रदेश को, गुजरात में जो इन्होंने हॉर्स ट्रेडिंग की वो सबके सामने है, 7 विधायक हमारे तोड़ दिए, राजस्थान बचा रहा। मैं तमाम विधायकों को, बीटीपी के लोगों को, सीपीएम के लोगो को, इन्डिपेंडेंट साथियों को बधाई देना चाहूंगा कि उन्होंने एकजुटता दिखाई है और वोटिंग पैटर्न वही रहा है जो हम लोगों ने तय किया था। यह सियासत में बहुत बड़ी विजय है।

एमपी जो 22 गए, उन्हेंअब कोई पूछ नहीं रहा

गहलोत ने कहा कि एमपी में जो 22 लोग गए हैं, उनकी दुर्गति हो रही है। सिंधिया की जो दुर्गति हुई वो सबके सामने है इसलिए राजस्थान में कांग्रेस विधायक दल एकजुट रहेगा। गहलोत बोले हम गवर्नेंस देंगे बहुत चैंलेंजेज सामने हैं। एक तरफ कोरोना, दूसरी तरफ आर्थिक संकट जो लॉकडाउन से पैदा हुआ।

गहलोत बोले बीजेपी से पूछो, आपके पास क्या सामान था ? क्यों एक्स्ट्रा उम्मीदवार खड़ा किया ? उनको मालूम था नहीं जीतेंगे उसके बावजदू भी क्योंकि एक दलित खड़ा हो गया था कांग्रेस से, ये दलित विरोधी लोग हैं बीजेपी वाले, इसलिए उन्होंने जानबूझकर के नीरज डांगी को हराने के लिए उम्मीदवार खड़ा किया, विधायक लोगों ने जवाब दे दिया उनका।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


जयपुर. शुक्रवार को राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशियों की जीत के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here