भाजपा के ऑब्जेक्शन पर कांग्रेस विधायक ने पीपीई किट पहनकर डाला वोट, विदेश से लौटकर विधानसभा पहुंचे, थाने में शिकायत दर्ज कराई 

0
16

(महेंद्र शर्मा)। राज्यसभा चुनाव में शुक्रवार को विधासनभा चुनाव में हो रही वोटिंग में तब खलल पड़ गया जब नगर से कांग्रेस के विधायक वाजिब अली के वोट को लेकर भाजपा ने आपत्ति दर्ज करा दी। दरअसल वाजिब अली आस्ट्रेलियागए हुए थे। वे रात को ही विदेश से लौटे थे और सीधे वोट डालने विधानसभा पहुंच गए। वोट डालने के लिए विधायकों की लाइन में भी लग गए थे। वोटिंग कक्ष में पहुंच गए और हस्ताक्षर कर बैलट पेपर भी ले लिया था।वहां मौजूद भाजपा सदस्यों ने उनके वोट डालने को लेकर आपत्ति जता दी। भाजपा के राजेंद्र राठौड़ ने ऑब्जेक्शन करते हुए कहा कि वे विदेश से आए हैं। उन्हें क्वारैंटाइन होना चाहिए था और उनको कोरोना टेस्ट भी होना चाहिए, लेकिन वे सीधे वोट डालने पहुंच गए। उनकी आपत्ति पर वाजिब अली को लाइन से हटाकर उनका कोरोना टेस्ट करवाया गया। बाद में उनकी कोविड-19 टेस्ट की प्राथमिक रिपोर्ट निगेटिव आई और उन्होंने पीपीई किट पहनकर वोट डाला। वहीं उनके बचाव में मंत्री सुभाष गर्ग ने कहा कि वेउनके पास पहले ही कोरोनावायरस कीरिपोर्ट निगेटिव थी इसीलिए वे वोट डालने आए थे।महामारी एक्ट के खिलाफ ज्योतिनगर थाने में शिकायत दीउधर, वाजिब अली के खिलाफसुरेंद्र सिंह नरूकाने ज्योति नगर थाने में महामारी एक्ट के उल्लंघन को लेकर शिकायतदर्ज कराईगई है। शिकायतमें कहा है कि वाजिब अली आस्ट्रलिया से आकर विधानसभा वोट डालने पहुंचे। इससे उन्होंने सभी विधायक, स्टाफ, सुरक्षाकर्मियों, निर्वाचन आयोग के अधिकारी एवं कर्मचारियों, मीडिकर्मियों की जान को खतरे में डाल दिया। इसलिए उनके खिलाफ उचित कानूनी कार्रवाई की जाए।पीपीई किट में वोट देने जाते विधायक वाजिद अली।
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

जयपुर। विधानसभा में पीपीई किट पहनकर वोट डालने मतदान कक्ष में जाते विधायक वाजिद अली।

(महेंद्र शर्मा)। राज्यसभा चुनाव में शुक्रवार को विधासनभा चुनाव में हो रही वोटिंग में तब खलल पड़ गया जब नगर से कांग्रेस के विधायक वाजिब अली के वोट को लेकर भाजपा ने आपत्ति दर्ज करा दी। दरअसल वाजिब अली आस्ट्रेलियागए हुए थे। वे रात को ही विदेश से लौटे थे और सीधे वोट डालने विधानसभा पहुंच गए। वोट डालने के लिए विधायकों की लाइन में भी लग गए थे। वोटिंग कक्ष में पहुंच गए और हस्ताक्षर कर बैलट पेपर भी ले लिया था।

वहां मौजूद भाजपा सदस्यों ने उनके वोट डालने को लेकर आपत्ति जता दी। भाजपा के राजेंद्र राठौड़ ने ऑब्जेक्शन करते हुए कहा कि वे विदेश से आए हैं। उन्हें क्वारैंटाइन होना चाहिए था और उनको कोरोना टेस्ट भी होना चाहिए, लेकिन वे सीधे वोट डालने पहुंच गए। उनकी आपत्ति पर वाजिब अली को लाइन से हटाकर उनका कोरोना टेस्ट करवाया गया। बाद में उनकी कोविड-19 टेस्ट की प्राथमिक रिपोर्ट निगेटिव आई और उन्होंने पीपीई किट पहनकर वोट डाला। वहीं उनके बचाव में मंत्री सुभाष गर्ग ने कहा कि वेउनके पास पहले ही कोरोनावायरस कीरिपोर्ट निगेटिव थी इसीलिए वे वोट डालने आए थे।

महामारी एक्ट के खिलाफ ज्योतिनगर थाने में शिकायत दी

उधर, वाजिब अली के खिलाफसुरेंद्र सिंह नरूकाने ज्योति नगर थाने में महामारी एक्ट के उल्लंघन को लेकर शिकायतदर्ज कराईगई है। शिकायतमें कहा है कि वाजिब अली आस्ट्रलिया से आकर विधानसभा वोट डालने पहुंचे। इससे उन्होंने सभी विधायक, स्टाफ, सुरक्षाकर्मियों, निर्वाचन आयोग के अधिकारी एवं कर्मचारियों, मीडिकर्मियों की जान को खतरे में डाल दिया। इसलिए उनके खिलाफ उचित कानूनी कार्रवाई की जाए।

पीपीई किट में वोट देने जाते विधायक वाजिद अली।
पीपीई किट में वोट देने जाते विधायक वाजिद अली।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


जयपुर। विधानसभा में पीपीई किट पहनकर वोट डालने मतदान कक्ष में जाते विधायक वाजिद अली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here