भाइयों ने लव मैरिज करने वाली बहन और उसके पति को चाकुओं से गोदकर मार डाला

0
17

रोहतक के महम इलाके में एक भाई ने अपनी बहन और उसके पति की हत्या कर दी, क्योंकि उन्होंने मर्जी से शादी की थी। इस वारदात में आरोपी का साथ उसके दो चचेरे भाइयों ने भी दिया। लड़की ने जिससे शादी की थी वह रिश्ते में उसका चचेरा भाई लगता था। समाज की पंचायत ने 5 महीने पहले पति-पत्नी को गांव से निकाल दिया था। इसके बाद भाई अपने बहन से फोन पर बातचीत करता रहा, ताकि उसका भरोसा जीता जा सके। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।पूजा का गुनाह ये था कि उसने अपने चचेरे भाई से ही मर्जी से शादी की थी।पुलिस के मुताबिक घटना गुरुवार की है। गांव फरमाणा खास के 25 साल के सुरेंद्र और 23 साल की पूजा को बुधवार रात चाकुओं से गोद दिया गया। यह हमला पूजा के सगे भाई अजय और चचेरे भाई साहिल और बबलू ने किया। सुरेंद्र की मौके पर ही मौत हो गई, लेकिन पूजा घायल हालत में भाग निकली। गुरुवार सुबह करीब 7 बजे वह महम के सरकारी अस्पताल पहुंची। डॉक्टरों ने उसे रोहतक रैफर कर दिया, लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई।सुरेंद्र की मौके पर ही मौत हो गई। पत्नी पूजा ने उसे तलाशा, लेकिन वह अंधेरे में नजर नहीं आया।भाई ने लॉकडाउन में आई तंगी का फायदा उठायालॉकडाउन में सुरेंद्र का रोजगार मंदा पड़ा तो अजय ने बहन पूजा को कमरा दिलवाने और उनकी गृहस्थी जमवाने का भरोसा दिया। वह बहन और भाई को रोहतक से बाइक पर बैठाकर तोशाम ले जाने का कहकर निकला, लेकिन रास्ते में उन्हें चचेरे भाई मिल गए। तीनों भाइयों पर पूजा को शक हुआ तो उसने सुरेंद्र के साथ भागने की कोशिश की, लेकिन अजय ने चाकू से पूजा का गला रेत दिया। इसके बाद सुरेंद्र को चाकुओं से गोद दिया। गला कटने के बाद पूजा अंधेरे में सारी रात खेतों में छुपी रही। जब उसे भरोसा हो गया कि भाई चले गए तब वह अस्पताल गई।पुलिस गिरफ्त में आरोपी अजय, साहिल और बबलू।
आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

सुरेंद्र का शव महम-बड़ेसरा मार्ग पर खेत से बरामद किया गया। शव की जांच करतीं डॉ. सरोज दहिया और पुलिस की टीम।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here