अहमदाबाद में 4 बच्चों की हत्या के बाद दो भाइयों ने जान दी, पुणे में 3 और 6 साल के बच्चों को मारकर पति-पत्नी ने आत्महत्या की

0
17

अहमदाबाद और पुणे में सुसाइड के 4 मामलों में 12 लोगों ने अपनी जान दे दी। पहली घटना अहमदाबाद की है। यहां दो भाइयों ने अपने 4 बच्चों की हत्या करने के बाद खुदकुशी कर ली। वहीं, पुणे में 3 और 6 साल के दो बच्चों की हत्या के बाद माता-पिता ने सुसाइड कर लिया। इसके अलावा, पुणे से सटे वाकड इलाके में गुरुवार को एक आईटी इंजीनियर ने फांसी लगाकर जान दे दी। एक अन्य घटना में महिला ने बिल्डिंग की आठवीं मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली।1. अहमदाबाद: दो भाइयों ने अपने दो-दोबच्चों की हत्या के बाद जान दीअहमदाबाद के विंजोल इलाके में चार बच्चो की हत्या के बाद दो पिता भाइयों ने आत्महत्या कर ली। शुक्रवार सुबहसभी की लाश एक फ्लैट में मिली। सुसाइड का कारणपता नहीं चल सका है। फिलहाल,आर्थिक तंगी को वजह माना जा रहा है। भाइयों कानाम गौरांग पटेल और अमरीश पटेल था। उनके बच्चों के नाम मयूर, किर्त, ध्रुव और सानवी थे। बच्चों की उम्र 7 से 12 साल के बीच थी। दोनों भाई कपडे़ की दुकान में नौकरी करते थे। दोनों भाइयोंने 6 महीने पहले एक फ्लैट खरीदाथा,लेकिन अभी शिफ्ट नहीं हुएथे। दोनों अलग-अलग जगह किराए के मकान में रहते थे। 17 जून को दोनों भाई घूमने जाने की बात कहकर बच्चों को इस फ्लैट में लेकर लाए, जहां से सभी के शव बरामद हुए। घटना के दौरान दोनों भाइयों की पत्नियांघर पर थीं।2. पुणे:दीवार पर सुसाइड नोट लिखा, बच्चों को मारा और फिर पति-पत्नी ने दी जानपुणे के सुखसागर इलाके में गुरुवार देर रातएक परिवार के 4 सदस्य मृत पाए गए। इनमें पति-पत्नीऔर उनके 3 और 6 साल के बच्चे थे।घर की दीवार पर पेंसिल से लिखा एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। मृतकों की पहचान अतुल शिंदे (33), उनकी पत्नी जया(32), दो बच्चे ऋग्वेद (6) और अंतरा (3) के रूप में हुई है। पड़ोसियों की सूचना पर पुलिसदरवाजा तोड़कर फ्लैट में घुसी। वहां चारों के शव पड़े थे।पुलिस का मानना है कि माता-पिता ने पहले बच्चों की हत्या की और फिर दोनों ने फांसी लगाकर अपनी जान दी।पुलिस जांच में सामने आया है कि मृतक अतुल और जया ने 7 साल पहले लव मैरिज की थी। इस शादी से उनका परिवार खुश नहीं था और वे परिवार से अलग रह रहे थे। अतुलस्कूल-कॉलेज के लिए आईकार्ड बनाने का काम करते थे। पिछले कुछ दिनों से स्कूल और कॉलेज बंद होने कारण परिवार पर आर्थिक दबाव आ गया था।दीवार पर लिखे सुसाइड नोट में लिखा गया है,”कृपया पुलिस किसी को परेशान ना करें, हम अपनी मर्जी से परिस्थिति से परेशान होकर जिंदगी खत्म कर रहे हैं।”दो अन्य घटनाएं:एक इंजीनियर और एक महिला ने भी दी जानगुरुवार को ही पुणे के वाकड इलाके में सुसाइड के दो मामले सामने आए हैं। यहां हिंजवाड़ी आईटी पार्क में काम करने वाले एक आईटी इंजीनियर ने अपने फ्लैट में फांसी लगाकर जान दे दी। युवक की पहचान प्रशांत नरेंद्र साठे के रूप में हुई है। वह मध्यप्रदेश के इंदौर का रहने वाला था और मरने से पहले लिखे सुसाइड नोट में उसने अपनी मौत के लिए किसी को जिम्मेदार नहीं ठहराने की बात कही है।वहीं, 31 साल की महिला ने पुणे में ही कालेवाड़ी स्थित बिल्डिंगकी आठवीं मंजिल से कूदकर जान दे दी। जिस वक्त यह घटना हुई, उनका चार साल का बेटा फ्लैट में ही था। महिला की पहचानकनिका शर्माके रूप में हुई है। महिला की मौत कीवजह घरेलू विवाद बताया जा रहा है।
आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

अहमदाबाद में दो भाइयों ने अपने बच्चों की हत्या के बाद जान दे दी। एक फ्लैट से सभी के शव बरामद हुए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here