शराबियाें का अड‌्डा बना हुआ है सामुदायिक भवन

0
18

कस्बे में बरसों पूर्व बना सामुदायिक भवन अनुपयोगी होने से बदहाल हो रहा है। देखरेख नहीं होने से यह खंडहर होता जा रहा है। लाखों रुपए खर्च होने के बाद भी इसका उपयोग नहीं होने से सवाल उठ रहे हैं कि इसका जवाबदार कौन है। फिलहाल इसका उपयोग जुआरी व जाम छलकाने वाले कर रहे हैं। देखने वाली बात यह भी है कि जिस जगह सामुदायिक भवन बनाया गया है, यह भूमि अन्य खातेदारी में आती है। ऐसे में भवन का उपयोग नहीं हो पा रहा है।इसके लिए कहीं न कहीं जनप्रतिनिधि व प्रशासन भी जिम्मेदार है। जर्जर पड़े सामुदायिक भवन को लेकर बीडीओ घनश्याम राठी ने बताया कि किसी ने जगह अनुदान की थी। उस समय सामुदायिक भवन बना दिया। यदि कोई उसे किराए से लेगा तो देने को तैयार हैं। सालों पहले बाबाजी के बाग में बनाए गए सामुदायिक भवन भी खंडहर होता जा रहा है। सार-संभाल नहीं होने से अनुपयोगी भवन की छत व दीवारें दरकने लगी हैं। निर्माण के बाद से सिर्फ एक ही चर्चा रही कि सही जगह का चयन नहीं किया गया।
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Community building remains alcoholic

कस्बे में बरसों पूर्व बना सामुदायिक भवन अनुपयोगी होने से बदहाल हो रहा है। देखरेख नहीं होने से यह खंडहर होता जा रहा है। लाखों रुपए खर्च होने के बाद भी इसका उपयोग नहीं होने से सवाल उठ रहे हैं कि इसका जवाबदार कौन है। फिलहाल इसका उपयोग जुआरी व जाम छलकाने वाले कर रहे हैं। देखने वाली बात यह भी है कि जिस जगह सामुदायिक भवन बनाया गया है, यह भूमि अन्य खातेदारी में आती है। ऐसे में भवन का उपयोग नहीं हो पा रहा है।

इसके लिए कहीं न कहीं जनप्रतिनिधि व प्रशासन भी जिम्मेदार है। जर्जर पड़े सामुदायिक भवन को लेकर बीडीओ घनश्याम राठी ने बताया कि किसी ने जगह अनुदान की थी। उस समय सामुदायिक भवन बना दिया। यदि कोई उसे किराए से लेगा तो देने को तैयार हैं। सालों पहले बाबाजी के बाग में बनाए गए सामुदायिक भवन भी खंडहर होता जा रहा है। सार-संभाल नहीं होने से अनुपयोगी भवन की छत व दीवारें दरकने लगी हैं। निर्माण के बाद से सिर्फ एक ही चर्चा रही कि सही जगह का चयन नहीं किया गया।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Community building remains alcoholic

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here