पापा साॅरी, मुझे गाेगरा मत भेजना, आई लव यू पापा… हथेली पर लिखकर विवाहिता ने पीहर में फांसी लगाई

0
17

जिले के तखतगढ़ कस्बे में महावीर बस्ती में रहने वाली एक 23 वर्षीय विवाहिता सेवंती ने मंगलवार सुबह फांसी लगा आत्महत्या कर ली, जिसका शव फंदे से उतार अस्पताल ले जाया गया। मृतका की शादी 13 माह पहले निकट के गाेगरा गांव में नरपत मेघवाल के साथ हुई थी।विवाहिता पिछले एक माह से पीहर तखतगढ़ में रह रही थी। माता की माैत के बाद घर में उसके पिता अकेले ही रहते थे, जबकि उसका भाई परिवार से अलग रह रहा था। मंगलवार सुबह उसके पिता मकान निर्माण के काम पर गए थे। पीछे से विवाहिता ने अपनी हथेली पर लिखा- साॅरी पापा, मुझे गाेगरा मत भेजना, आई लव यू पापा।पुलिस ने घटना के बाद सुमेरपुर एसडीएम देवेंद्र कुमार तथा मृतका के पीहर व ससुराल पक्ष के लाेगाें काे माैके पर बुलाया और उनकी मौजूदगी में पाेस्टमार्टम करा शव परिजनों काे साैंप दिया। तखतगढ़ थाना प्रभारी हरजीराम ने बताया कि प्रारंभिक पूछताछ में मृतका के पीहर पक्ष ने भी माैत पर किसी तरह का संदेह नहीं जताया है, लेकिन शादी काे सात साल से कम समय हाेने के कारण मामले की जांच सुमेरपुर एसडीएम काे साैंपी गई है।माैत की वजह का पता नहीं चला, एसडीएम को सौंपी जांचतखतगढ़ निवासी खूमाराम मेघवाल की पत्नी का निधन हाे चुका है, उसने बेटी सेवंती का विवाह 13 माह पहले गोगरा निवासी नरपत मेघवाल के साथ किया था। शादी के बाद पति-पत्नी में अनबन या ससुराल पक्ष से काेई विवाद की घटना सामने नहीं आई। मृतका एक माह से पिता के पास ही रह रही थी, जिसने पिता काे भी किसी तरह की बात नहीं की।आत्महत्या करने से पूर्व हथेली पर ससुराल नहीं भेजने जैसे शब्द लिखने का कारण पिता को भी समझ में नहीं आ रहा है। मृतका के पिता की रिपोर्ट पर पुलिस ने मर्ग दर्ज कर मामले की जांच सुमेरपुर एसडीएम को सौंपी है। सुमेरपुर एसडीएम मृतका के पीहर व ससुराल पक्ष के लोगों के बयान लेने के बाद जांच रिपोर्ट के बाद आगे की कार्रवाई करेंगे।
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Papa sary, don’t send me to gagra, I love you papa … Married woman hanged in the pool by writing on her palm

जिले के तखतगढ़ कस्बे में महावीर बस्ती में रहने वाली एक 23 वर्षीय विवाहिता सेवंती ने मंगलवार सुबह फांसी लगा आत्महत्या कर ली, जिसका शव फंदे से उतार अस्पताल ले जाया गया। मृतका की शादी 13 माह पहले निकट के गाेगरा गांव में नरपत मेघवाल के साथ हुई थी।

विवाहिता पिछले एक माह से पीहर तखतगढ़ में रह रही थी। माता की माैत के बाद घर में उसके पिता अकेले ही रहते थे, जबकि उसका भाई परिवार से अलग रह रहा था। मंगलवार सुबह उसके पिता मकान निर्माण के काम पर गए थे। पीछे से विवाहिता ने अपनी हथेली पर लिखा- साॅरी पापा, मुझे गाेगरा मत भेजना, आई लव यू पापा।

पुलिस ने घटना के बाद सुमेरपुर एसडीएम देवेंद्र कुमार तथा मृतका के पीहर व ससुराल पक्ष के लाेगाें काे माैके पर बुलाया और उनकी मौजूदगी में पाेस्टमार्टम करा शव परिजनों काे साैंप दिया। तखतगढ़ थाना प्रभारी हरजीराम ने बताया कि प्रारंभिक पूछताछ में मृतका के पीहर पक्ष ने भी माैत पर किसी तरह का संदेह नहीं जताया है, लेकिन शादी काे सात साल से कम समय हाेने के कारण मामले की जांच सुमेरपुर एसडीएम काे साैंपी गई है।

माैत की वजह का पता नहीं चला, एसडीएम को सौंपी जांच
तखतगढ़ निवासी खूमाराम मेघवाल की पत्नी का निधन हाे चुका है, उसने बेटी सेवंती का विवाह 13 माह पहले गोगरा निवासी नरपत मेघवाल के साथ किया था। शादी के बाद पति-पत्नी में अनबन या ससुराल पक्ष से काेई विवाद की घटना सामने नहीं आई। मृतका एक माह से पिता के पास ही रह रही थी, जिसने पिता काे भी किसी तरह की बात नहीं की।

आत्महत्या करने से पूर्व हथेली पर ससुराल नहीं भेजने जैसे शब्द लिखने का कारण पिता को भी समझ में नहीं आ रहा है। मृतका के पिता की रिपोर्ट पर पुलिस ने मर्ग दर्ज कर मामले की जांच सुमेरपुर एसडीएम को सौंपी है। सुमेरपुर एसडीएम मृतका के पीहर व ससुराल पक्ष के लोगों के बयान लेने के बाद जांच रिपोर्ट के बाद आगे की कार्रवाई करेंगे।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Papa sary, don’t send me to gagra, I love you papa … Married woman hanged in the pool by writing on her palm

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here