चीनी कंपनियों की भारत में काम करने वालों के लिए एडवाइजरी- सार्वजनिक स्थल पर सावधान रहें, सोशल मीडिया पर कमेंट ना करें

0
17

भारत और चीन में चल रहे तनाव के बीच प्रमुख चीनी कंपनियों ने भारत में काम करने वाले अपने कर्मचारियों लिए एडवाइजरी जारी की है। एडवाइजरी के मुताबिक, कर्मचारी सार्वजनिक स्थानों पर ना जाएं और सीमा पर तनाव कम होने तक सावधान रहें। ऐसी ही एक कंपनी के एग्जिक्यूटिव ने कहा कि कर्मचारियों को सोशल मीडिया पोस्ट से भी बचने को कहा गया है।दरअसल, भारत और चीन के सैनिकों के बीच गलवान घाटी में हिंसक झड़प के बाद सोशल मीडिया में चीनी ब्रांडों के खिलाफ पोस्ट की जाने लगी। सोशल मीडिया पर BoycottChineseProducts ट्रेंड करने लगा।चीनी कंपनियों नेकर्मचारियों से कहा- संकट की स्थिति में तुरंत सूचित करें स्मार्ट फोन बनाने वाली चीन की तीन कंपनियों ने भारत में काम करने वाले चीन के लोगों और चीनी नागरिकों से विवाह करने वाले भारतीयों के लिए एडवायजरी जारी की। कंपनियों ने कहा कि कर्मचारी या उनके परिवार वालेसार्वजनिक स्थानों पर बेहद सावधान रहें। संकट की स्थिति में तुरंत कंपनी को सूचित करें। इलेक्ट्रिक प्रोडक्ट बनाने वाली एक कंपनी नेकर्मचारियों से कहा-ऑफिस जाते वक्त सावधान रहें। खतरा महसूस होता है तो वे घर से काम कर सकते हैं। कुछ ऐसी कंपनियों ने अपने परिसर में सुरक्षा बढ़ा दी है, जहां चीन के नागरिक काम करते हैं। एक एग्जिक्यूटिव के मुताबिक, चीनी फर्मों ने भारत में मौजूद अपनेनागरिकों से कहा है कि वे मीडिया में दिखने से परहेज करें और सोशल मीडिया अकाउंट्स परटिप्पणी या पोस्ट न करें।एसोसिएशन ने भी दी हिदायतइंडिया सेल्युलर एंड इलेक्ट्रॉनिक्स एसोसिएशन के अध्यक्ष पंकज मोहिंदरू ने एसोसिएशन की सदस्य चीनी कंपनियों को हिदायत दी है। एसोसिएशन ने कहा- चीनी नागरिकों को सार्वजनिक रूप से बाहर नहीं निकलना चाहिए। अगर वे किसी भी खतरे को भांपते हैं तो एसोसिएशन को सूचना देने के साथ ही पुलिस को भी इस बारे में जानकारी दें।भारत में अभीचीनी अधिकारी भी सामान्य संख्या से कम हैं। ऐसे कई अधिकारीनए वर्ष मनाने के लिए चीन गए थे। जनवरी-फरवरी में चीन में Covid-19 प्रकोप के कारण वापस नहीं लौट सके। इसके बाद भारत ने चीन से आने वाली उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया था।
आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

चाइनीज प्रोडक्ट्स को लेकर बुधवार को देशभर में प्रदर्शन हुआ। प्रदर्शनकारियों ने चीनी प्रोडक्ट्स का पूरी तरह बहिष्कार करने के नारे लगाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here