प्रधानमंत्री थोड़ी देर में 21 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से चर्चा करेंगे, अनलॉक-1 के असर और आगे की स्ट्रैटजी पर बात होगी

0
20

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी थोड़ी देर में21 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात करेंगे। ये मीटिंग वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होगी। इसमें कोरोना के हालातों पर बात होगी। आगे की स्ट्रैटजी के लिए राज्यों से फीडबैक लिया जाएगा। अनलॉक-1 के असर पर भी चर्चा होगी। मोदी के साथ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी मीटिंग में जुड़ेंगे।आज की मीटिंग में ये 21 राज्य/केंद्र शासित प्रदेश शामिल होंगे पंजाब असम केरल उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ त्रिपुरा हिमाचल प्रदेश चंडीगढ़ गोवा मणिपुर नागालैंड लद्दाख पुडुचेरी अरुणाचल प्रदेश मेघालय मिजोरम अंडमान-निकोबार दादर नागर हवेली-दमन दीव सिक्किम लक्षदीप राज्यों के साथ 3 महीने में छठी मीटिंगकोरोना संकट पर मोदी मार्च से लगातार राज्यों से चर्चा कर रहे हैं। आज छठी बैठक होगी।पिछली 5 मीटिंग कब-कब हुईं, तब क्या स्थिति थी? मीटिंग की तारीख क्या चर्चा हुई कोरोना के केस कोरोना से मौतें 20 मार्च मोदी ने सोशल डिस्टेंसिंग और 22 मार्च के जनता कर्फ्यू पर फोकस किया। 249 5 2 अप्रैल मोदी ने मुख्यमंत्रियों से कहा किटेस्ट और क्वारैंटाइन पर फोकस कर कोरोना की चेन को तोड़ें। 2,543 72 11 अप्रैल प्रधानमंत्री ने लॉकडाउन जारी रखने पर राज्यों से सुझाव मांगे। 8,446 288 27 अप्रैल संक्रमण रोकने के उपायों के साथ इकोनॉमी पर भी फोकस करने की बात हुई। 29,451 939 11 मई लॉकडाउन खोलने की स्ट्रैटजी पर चर्चा हुई। 70,768 2,294 सबसे ज्यादा प्रभावित 15 राज्यों से कल बात होगीमोदी लगातार दो दिन मुख्यमंत्रियों से चर्चा करेंगे। बुधवार को यानी कल महाराष्ट्र, दिल्ली, राजस्थान, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और पश्चिम बंगाल समेत 15 राज्यों से बात होगी। महाराष्ट्र में कोरोना के सबसे ज्यादा 1 लाख 10 हजार 744 केस हैं। दिल्ली में भी केस तेजी से बढ़ रहे हैं।अनलॉक-1 में इकोनॉमी का ज्यादातर हिस्सा शुरू हुआसरकार ने देश में एक जून से अनलॉक-1 की शुरुआत की थी। शर्तों के साथ पिछले हफ्ते होटल-रेस्टोरेंट, शॉपिंग मॉल्स और धार्मिक स्थल भी खोल दिए गए। पब्लिक ट्रांसपोर्ट भी शुरू हो गया है।कोरोना से 9915 लोगों की मौतकेंद्र और राज्य सरकारों के सामने कोरोना संक्रमण पर ब्रेक लगाने और इकोनॉमी को रफ्तार देने की चुनौतियां हैं। देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 3.43 लाख से ज्यादा हो गई है। सोमवार को 10 हजार से ज्यादा नए केस आए, तो एक ही दिन में 10 हजार से ज्यादा मरीज ठीक भी हुए। कोरोना से अब तक 9 हजार 915 लोगों की मौत हो चुकी।दिल्ली में केंद्र सरकार ने मोर्चा संभालादिल्ली में कोरोना मरीजों को सुविधाएं नहीं मिलने और लाशों को कचरे के ढेर में रखने की शिकायतें भी मिल रही थीं। इसे देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने पिछले हफ्ते दिल्ली सरकार को फटकार लगाई। उसके बाद केंद्र सरकार ने मोर्चा संभाल लिया है। दिल्ली के हालातों पर मोदी ने शनिवार को अपने मंत्रियों और सीनियर अफसरों से चर्चा की। अगले दिन गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपराज्यपाल अनिल बैजल के साथ मीटिंग की। सोमवार को शाह ने ऑल पार्टी मीटिंग भी रखी।
आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

मोदी तीन महीने में छठी बार राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस करेंगे, पिछली मीटिंग 11 मई को हुई थी। (फाइल फोटो)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here