नियमों का उल्लंघन करने के लिए कार्रवाई कर सकती है यूरोपियन यूनियन, दोषी होने पर लगेगा 14.41 लाख करोड़ का जुर्माना; अमेजन की मार्केट वैल्यूएशन 96 लाख करोड़ रुपए

0
23

दुनियाभर की कंपनियों को नुकसान पहुंचाने वाली कोविड-19 महामारी का असर अमेजन के कारोबार पर कुछ खास नहीं पड़ा है। मार्च के बाद इसके शेयर में जबरदस्त उछाल देखने को मिला। पिछले हफ्ते अमेजन के शेयर हाईएस्ट लेवल पर थे। लॉकडाउन के बीच जब दुकानेंबंद हो गईं, तब लोगों ने इस ऑनलाइन प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल किया।अमेजन की इस कामयाबी की बदौलत कंपनी के सीईओ जेफ बेजोस दुनिया के सबसे अमीर आदमी की पोजिशन पर बरकरार हैं। हालांकि, इस कामयाबी के चलते ही दुनियाभर की सरकारों का ध्यान अमेजन पर है। वे जानना चाहती हैं कि ये टेक कंपनी इतनी बड़ी कैसे है? क्या ये अपनी डोमिनेंट पोजिशन का गलत तरह से इस्तेमाल कर रही है?इन्हीं सब वजहों सेयूरोपियन यूनियन (ईयू) की नजर भी अमेजन के ऊपर है।बाजार में स्वस्थ प्रतिस्पर्धा को बनाए रखने के लिए ईयूकंपनी के व्यवहार का आकलन कर रहाहै। रिपोर्ट्स के मुताबिक, ईयू अब अमेजन पर बाजार में एंटी-कॉम्पिटेटिव व्यवहार के चार्ज लगा सकतीहै। अगर अमेजन इन आरोपों की दोषी पाई गई तो उस पर14.41 लाख करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया जा सकता है। आज के शेयर भाव के आधार पर कंपनी की मार्केट वैल्यूएशन96लाख करोड़ रुपए है।यूरोपीय यूनियनक्या कर रहा है?यूरोपीय यूनियन (ईयू)की चिंताओं में अमेजन की दोहरी भूमिका है। पहला, यह ऑनलाइन स्टोर चलाता है और दूसरा, उस प्लेटफॉर्म पर अपने प्रोडक्ट भी बेचता है। अमेजन कीइस बात के लिए आलोचना हो रही है कि वो खिलाड़ी और रेफरी दोनों है।पिछले साल ईयू की प्रतियोगिता कराने वालेमार्ग्रेथ वेस्टेगर ने कहा था कि हम कभी भी एक फुटबॉल मैच में इस बात को स्वीकार नहीं करते हैं कि खेलने वाली टीम ही गेम को जज भी कर रही थी।अमेजन पर क्या चार्ज लग सकते हैं?यूरोपीय यूनियन की अधिकांश चिंताओं की जांच अमेजन के पास उपलब्धडेटा के आधार पर होगी। अमेजन के पास जो डेटा है वहइसका उपयोग कैसे करती है?यह थर्ड-पार्टी प्रोडक्ट्स जैसे उनका वॉल्यूम और कीमत की सेंसटिव कमर्शियल इन्फॉर्मेशन देख सकतीहै और उसका इस्तेमाल अपने फायदे के लिए कर सकती है।बड़ा सवाल यह है कि क्या अमेजन इस डेटा का इस्तेमाल करके अपने प्रोडक्ट को अनुचित लाभ पहुंचा रही है?उदाहरण के लिए, द वॉल स्ट्रीट जर्नल ने बताया है कि अमेजन ने अपने प्रोडक्ट्स को डेवलप करने के लिए थर्ड-पार्टी सेलर केडेटा को एक्सेस किया है। दूसरे शब्दों में कहा जाए तो अमेजन समझता है कि उसके प्लेटफॉर्म पर क्या बिकता है और उसकी डिमांड कितनी है?अमेजन पर अन्य आरोप भी हैं?यदि आप अमेजन पर कोई प्रोडक्ट खरीदते हैं, तो आपको पॉप-अप में सुझाए गए अन्य प्रोडक्ट मिलेंगे, जिन्हें ‘बाय बॉक्स’ कहा जाता है। यदि आप सामान बेचने के व्यवसाय में हैं, तो अपने प्रोडक्ट को अमेजन के बाय बॉक्स पर रखें।लेकिन क्या अमेजन थर्ड पार्टी की कीमत पर अपने स्वयं के प्रोडक्ट को गलत तरीके से बढ़ावा देता है? यूरोपीय यूनियन इस मुद्दे परजांच कर रहा है। अमेजन आपके बारे में इतना कैसे जानता है? अमेजन मार्केटप्लेस के बिहेवियर की जांच अमेजन द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले सेलर के डेटा के इस्तेमाल की जांचअमेजन क्या कहती है?बहुत सारी कंपनियां ऐसी हैं जो एक दुकान और आपूर्तिकर्ता दोनों के रूप में कार्य करती हैं। उदाहरण के लिए टेस्को और सेन्सबरी दोनों अपने-अपने लेबल वाले प्रोडक्ट बेचतीहैं। उनका यह भी तर्क है कि प्रतिस्पर्धा से दूर, प्राइवेट लेबल प्रोडक्ट्स ग्राहकों के लिए अच्छे हैं और अधिक विकल्प प्रदान करते हैं।अमेजन ने कहा, “हम अपने कर्मचारियों को गैर-सार्वजनिक, विक्रेता-विशिष्ट डेटा का उपयोग करने से रोकते हैं ताकि यह निर्धारित किया जा सके कि कौन से निजी लेबल प्रोडक्ट को लॉन्च किया जाए।”यह आपको कैसे प्रभावित करेगा?अमेजन के आलोचकों का मानना ​​है कि यह एक ऐसा क्षण है जो ऑनलाइन बाजार में कानूनी रूप से स्वीकार्य होने वाली सीमाओं को निर्धारित करेगा। अमेजन पर जुर्माना लगेगा या नहीं यह स्पष्ट नहीं है। इससेअमेजन के व्यापार मोड पर कैसे असर पड़ेगा, यह भी साफ नहीं है।यूरोपीय उपभोक्ता संगठन से ऑगस्टिन रेयना ने बताया कि सवाल यह है कि मध्यम से दीर्घावधि में यदि अमेजन को ऐसा करने देने से नहीं रोका गया तो , तो बाजार वह बेहद पावरफुल बन जाएगा। यह पसंद को सीमित करने और कीमतों को बढ़ाने में सक्षम होगा।अब आगे क्या?इस सप्ताह में जल्द ही एक आरोप पत्र प्रकाशित किया जा सकता है। हालांकि, यूरोपीय यूनियन आयोग चुस्त-दुरुस्त है। यह वर्तमान में केवल यह कहेगा कि जांच चल रही है।यदि अमेजन कॉम्पटीशन कानून के उल्लंघन का दोषी पाया गया तो उस पर ग्लोबल रेवेन्यू का 10 प्रतिशत करीब 19 बिलियन डॉलर (लगभग 14.41 लाख करोड़ रुपए) का जुर्माना लगाया जा सकता है। हालांकि, रातोंरात ऐसा होने की उम्मीद नहीं है। यदि अमेजन पर जुर्माना लगाया भी जाता है, तो वो इसे लेकर अपील कर सकता है।यूरोपीय यूनियन अन्य देशों ने बड़ी तकनीक में अपना इंटरेस्ट दिखा रहा है। ऐसे में अमेजन को रिलेक्स मिलने की उम्मीद नहीं दिखती।उदाहरण के लिए 2017 में, यूरोपीय यूनियन ने गूगल पर अपने राइवल्स की सर्चिंग को कथित तौर पर हटाने के लिए 2.1 बिलियन यूरो (करीब 1.81 लाख करोड़ रुपए) का जुर्माना लगाया था।अमेजन और दूसरी बड़ी टेक फर्मों जैसे फेसबुक और गूगल को देखते हुए अमेरिका में अन्य प्रतिस्पर्धा-विरोधी जांचों की एक कड़ी बनाई जा रही है।
आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

Amazon v EU: Amazon could be fined 10% of its global revenue if found guilty of breaching competition law – about £15bn ($19bn)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here